ताज़ा खबर
 

दिल्ली पहुंचे जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल का सामान एयरपोर्ट से हुआ गायब, उठा ले गया दूसरा पैसेंजर

यह घटना 9 मार्च शुक्रवार दोपहर 12.35 बजे घटी। जब राज्यपाल एनएन वोहरा गोएयर की फ्लाइट जी8-205 से जम्मू से दिल्ली हवाई अड्डे पहुंचे। वोहरा दिल्ली पहुंचने पर हवाई अड्डे की बेल्ट नंबर 2 पर अपने बैग का इंतजार करने लगे। लेकिन काफी देर इंतजार करने के बाद भी जब उनका बैग नहीं मिला तो राज्यपाल वोहरा ने इसकी शिकायत एयरलाइन अथॉरिटी से की।

सीआईएसएफ सूत्रों के अनुसार, यह घटना 9 मार्च शुक्रवार दोपहर 12.35 बजे घटी। जब राज्यपाल एनएन वोहरा गोएयर की फ्लाइट जी8-205 से जम्मू से दिल्ली हवाई अड्डे पहुंचे। (file photo)

इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की सुरक्षा में तैनात सुरक्षा एजेंसियों के बीते शुक्रवार उस वक्त होश उड़ गए, जब पता चला कि जम्मू- कश्मीर के राज्यपाल एनएन वोहरा का बैग गुम हो गया है। इसके बाद आनन-फानन बैग की तलाश की गई। कुछ घंटे की जद्दोजहद के बाद राज्यपाल वोहरा का बैग मिला। दरअसल, बैग एक अन्य यात्री गलती से अपने साथ ले गया था। उसका बैग भी दिखने में राज्यपाल वोहरा के बैग जैसा ही था।

सीआईएसएफ सूत्रों के अनुसार, यह घटना 9 मार्च शुक्रवार दोपहर 12.35 बजे घटी, जब राज्यपाल एनएन वोहरा गोएयर की फ्लाइट जी8-205 से जम्मू से दिल्ली हवाई अड्डे पहुंचे। वोहरा दिल्ली पहुंचने पर हवाई अड्डे की बेल्ट नंबर 2 पर अपने बैग का इंतजार करने लगे। लेकिन काफी देर इंतजार करने के बाद भी जब उनका बैग नहीं मिला तो राज्यपाल वोहरा ने इसकी शिकायत एयरलाइन अथॉरिटी से की। राज्यपाल का बैग गुम होने की सूचना मिलते ही खुफिया एजेंसियां हरकत में आ गईं। इसके बाद एयरपोर्ट के सभी सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए। फुटेज में एक व्यक्ति राज्यपाल के बैग के साथ जाता दिखा। इसके बाद उस व्यक्ति से फोन पर संपर्क साधा गया। इसके बाद राज्यपाल एनएन वोहरा का बैग मिल सका।

बता दें कि एयरपोर्ट पर हर रोज कई लोगों का सामान गुम हो जाता है। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए एयरपोर्ट की सुरक्षा का जिम्मा संभालने वाली सीआईएसएफ की वेबसाइट पर लॉस्ट एंड फाउंड का सेक्शन दिया गया है, जहां पर लोग अपने गुम हुए सामान की जानकारी देकर अपना सामान वापस पा सकते हैं। लेकिन राज्यपाल का बैग होने के कारण इस मामले मे अतिरिक्त सतर्कता बरती गई। उल्लेखनीय है कि एनएन वोहरा साल 2008 से जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल हैं। इससे पहले वोहरा साल 2000 की शुरुआत में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार द्वारा कश्मीर में वार्ताकार भी नियुक्त किए गए थे। कुछ समय पहले एनएन वोहरा के पद छोड़ने की खबर भी आयी थी, लेकिन गृह मंत्रालय ने इन खबरों को अफवाह करार दिया था। पंजाब कैडर के आईएएस अधिकारी रहे एनएन वोहरा कई महत्वपूर्ण पद संभाल चुके हैं। अपने प्रशासनिक कार्यकाल के दौरान किए गए बेहतरीन कामों के लिए एनएन वोहरा को साल 2007 में पद्म विभूषण सम्मान से भी नवाजा जा चुका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App