ताज़ा खबर
 

आर्मी चीफ ने माना: बॉर्डर पर दबाव बना रहा है चीन, लेकिन हम भी कमजोर नहीं

रावत ने आतंकवाद से निपटने को लेकर पाकिस्तान को दी गई अमेरिका की चेतावनियों के बारे में कहा कि भारत को इंतजार करना होगा और इसका असर देखना होगा।

Bipin Rawat, Army Chief, Indian Army Chief, China, India, Doklam, Pakistan, America, hindi news, News in Hindi, Jansattaदिल्ली में पत्रकारों को संबोधित करते हुए आर्मी चीफ बिपिन रावत ने कहा कि देश चीन की आक्रामकता से निपटने में भी सक्षम है।

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने आज (12 जनवरी) माना कि चीन ताकतवर देश होगा, लेकिन भारत भी कमजोर राष्ट्र नहीं है और हिन्दुस्तान किसी को भी अपने क्षेत्र में घुसपैठ की अनुमति नहीं देगा। रावत ने कहा कि अब समय आ गया है कि भारत अपना ध्यान उत्तरी सीमा की ओर केंद्रित करे। उन्होंने यह भी कहा कि देश चीन की आक्रामकता से निपटने में भी सक्षम है। रावत ने दिल्ली में संवाददाताओं से कहा, ‘‘चीन एक शक्तिशाली देश है लेकिन हम कमजोर देश नहीं हैं।’ उन्होंने भारत में चीनी घुसपैठ से जुड़े एक प्रश्न के उत्तर में कहा, ‘‘हम किसी को भी हमारे क्षेत्र में घुसपैठ की अनुमति नहीं देंगे।’’ रावत ने कहा कि हां यह सच है कि चीन सीमा पर दबाव डाल रहा है, लेकिन हम इसका मुकाबला कर रहे हैं। आर्मी चीफ ने कहा, ‘हमें कोशिश करनी चाहिए कि चीन के साथ टेंशन ना बढ़े, हमलोग अपनी जमीन पर घुसपैठ नहीं होने देंगे, यदि ऐसे हालात पैदा होते हैं तो आगे की कार्रवाई के लिए सेना को स्पष्ट निर्देश है।’

रावत ने आतंकवाद से निपटने को लेकर पाकिस्तान को दी गई अमेरिका की चेतावनियों के बारे में कहा कि भारत को इंतजार करना होगा और इसका असर देखना होगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में आतंकवादी केवल इस्तेमाल करके फेंकने की चीज हैं और भारतीय सेना का नजरिया यह सुनिश्चित करना रहा है कि उसे दर्द का एहसास हो। उन्होंने यह भी कहा कि अमेरिका द्वारा पाकिस्तान के खिलाफ रोकी गई मदद के बाद भारत को यह नहीं समझ लेना चाहिए कि जब आतंकवाद से लड़ने का मसला आएगा तो भारत का काम अमेरिका कर देगा। उन्होंने कहा, ‘यह कहना जल्दबाजी होगी कि सारी चीजें ठीक से चल रही हैं, हमें ये उम्मीद नहीं करना चाहिए हमारा काम अब अमेरिका करने लगेगा।’

 

Next Stories
1 जब पीएम नरेंद्र मोदी बोले- योगी जी भी कम खिलाड़ी नहीं हैं
2 पूर्व जस्टिस की राय- प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले जजों पर चले महाभियोग
3 ब्रिटिश टॉयलेट क्लीनर कंपनी के प्रोडक्‍ट हार्पिक पर कोर्ट में भारी पड़ी रामदेव की पतंजलि
ये पढ़ा क्या?
X