scorecardresearch

NYT और खलीज टाइम्‍स में मनीष सिसोदिया पर आर्टिकल के केजरीवाल के दावे को लेकर बीजेपी का तंज, बोली- ये कुछ नहीं बस पेड प्रमोशन है

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर पर दिल्ली सरकार की शराब नीति को लेकर सीबीआई ने छापेमारी की है।

NYT और खलीज टाइम्‍स में मनीष सिसोदिया पर आर्टिकल के केजरीवाल के दावे को लेकर बीजेपी का तंज, बोली- ये कुछ नहीं बस पेड प्रमोशन है
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (फाइल फोटो)

दिल्ली के स्कूलों और शिक्षा को लेकर अमेरिकी अख़बार न्यू यॉर्क टाइम्स और दुबई के खलीज टाइम्स में एक रिपोर्ट छपी और बताया गया कि किस प्रकार से दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया शिक्षा के क्षेत्र में बड़े बदलाव कर रहे हैं। वहीं इसको लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ख़ुशी जताई और इसे उपलब्धि बताया। अब बीजेपी ने कहा है कि ये सिर्फ पेड प्रमोशन है और कुछ नहीं।

अरविन्द केजरीवाल के बयान के बाद बीजेपी आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने ट्वीट कर कहा कि ये केवल पेड प्रमोशन है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “ऐसा कैसे हो सकता है कि न्यूयॉर्क टाइम्स और खलीज टाइम्स दिल्ली के शिक्षा मॉडल (जो मौजूद नहीं है) पर एक ही लेख, शब्द दर शब्द, एक ही व्यक्ति द्वारा लिखे गए, वही तस्वीरें (वह भी एक निजी स्कूल की) प्रकाशित करते हैं? अरविंद केजरीवाल का सबसे अच्छा बचाव कुछ और नहीं बल्कि पेड प्रमोशन है।”

बीजेपी की दिल्ली इकाई के आईटी सेल प्रमुख पुनीत अग्रवाल ने कहा, “न्यू यॉर्क टाइम्स और खलीज टाइम्स के पास ठीक वही लेख हैं, जो ठीक उसी काम, समान चित्रों के साथ छपे हैं और लेखक भी वही है। यह अरविंद केजरीवाल की खबर नहीं है। इसे पेड विज्ञापन कहा जाता है। मनीष सिसोदिया को वहीं जाना होगा जहां उन्हें होना चाहिए। वह जगह जेल है।”

अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, “न्यू यॉर्क टाइम्स में पहले पन्ने पर छपने के लिए दुनिया के कई देशों के प्रधानमंत्री प्रयास करते हैं। सिसोदिया की फोटो छपने का मतलब है कि वह देश के ही नहीं, बल्कि दुनिया के सबसे अच्छे शिक्षा मंत्री हैं। मुझे तो याद नहीं आ रहा कि पिछली बार कब न्यूयॉर्क टाइम्स में भारत के बारे में इतनी पॉजिटिव खबर छपी थी। इसके पहले कोरोना से हुई मौतों को लेकर खबर छपी थी, लेकिन अब पॉजिटिव खबर छप रही है।”

बता दें कि आज ही दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर पर सीबीआई की छापेमारी हुई है। दरअसल सीबीआई ने दिल्ली सरकार की आबकारी नीति को लेकर देश के सात राज्यों और 21 ठिकानों पर छापेमारी की है।

पढें नई दिल्ली (Newdelhi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.