ताज़ा खबर
 

वीडियोकॉन के हेडक्वॉर्टर पर CBI का छापा, चंदा कोचर के पति की कंपनी पर भी रेड

सीबीआई आईसीआईसीआई वीडियोकॉन सीबीआई ने आईसीआईसीआई-वीडियोकॉन ऋण मामले में दर्ज की प्राथमिकी।

Author Updated: January 24, 2019 1:20 PM
सीबीआई ने 3,250 करोड़ रुपए के आईसीआईसीआई बैंक- वीडियोकॉन ऋण मामले में कथित अनियमितताओं के संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज की तथा मुंबई में समूह के मुख्यालय और औरंगाबाद में कार्यालयों में बृहस्पतिवार को छापे मारे।

सीबीआई ने 3,250 करोड़ रुपए के आईसीआईसीआई बैंक- वीडियोकॉन ऋण मामले में कथित अनियमितताओं के संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज की तथा मुंबई में समूह के मुख्यालय और औरंगाबाद में कार्यालयों में बृहस्पतिवार को छापे मारे। अधिकारियों ने बताया कि छापे मारने का काम बृहस्पतिवार सुबह शुरू किया गया। इस दौरान आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर के पति दीपक कोचर द्वारा संचालित कंपनी न्यूपावर और सुप्रीम एनर्जी पर भी छापे मारे गए।

उन्होंने बताया कि ऐसा आरोप है कि 2012 में आईसीआईसीआई बैंक से वीडियोकॉन समूह को 3250 करोड़ रुपए का ऋण मिलने के कुछ महीनों बाद वीडियोकॉन प्रमोटर वेणुगोपाल धूत ने न्यूपावर में करोड़ों रुपए निवेश किए। अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी ने धूत, दीपक कोचर और अज्ञात अन्य के खिलाफ पिछले साल मार्च में एक प्रारंभिक जांच (पीई) दर्ज की थी।

सीबीआई प्राथमिकी दर्ज करने से पहले पीई दर्ज करती है ताकि वह सबूत एकत्र कर सके। एजेंसी ने इस पीई को प्राथमिकी में बदल दिया है।
उन्होंने कहा कि आरोपियों के नाम और प्राथमिकी की विस्तृत जानकारी का अभी इंतजार किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 जेएनयू राजद्रोह केस: केजरीवाल सरकार के मंत्री ने प्रिंसिपल सेक्रेटरी लॉ को थमाया नोटिस, पूछा- बिना इजाजत एक्शन कैसे
2 केजरीवाल सरकार ने बढ़ाया वक्फ बोर्ड के इमामों का वेतन, 10 हजार से बढ़कर मिलेंगे 18 हजार रुपए महीना
3 भाजपाइयों ने ही निकाली स्वच्छ भारत मिशन की हवा! रामलीला मैदान में बिखरी दिखीं हजारों बोतलें