ताज़ा खबर
 

प्रेमी के साथ भागने पर परिजनों ने की युवक की हत्या, युवती को किया अपनाने से इंकार

युवती की तलाश कर रहे परिजनों को वह प्रेमी के साथ शुक्रवार को मयूर विहार इलाके में नजर आई। गुस्साए परिजनों ने धारदार हथियार से युवक की हत्या कर दी और युवती पर भी जानलेवा हमला किया था।

Author नई दिल्ली | January 7, 2018 3:49 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

दिल्ली के पटपड़गंज इलाके में रहने वाली एक 23 साल की युवती बीते तीन जनवरी को अपने प्रेमी के साथ घर से भाग गई थी। युवती की तलाश कर रहे परिजनों को वह प्रेमी के साथ शुक्रवार को मयूर विहार इलाके में नजर आई। गुस्साए परिजनों ने धारदार हथियार से युवक की हत्या कर दी और युवती पर भी जानलेवा हमला किया था, लेकिन वह बच गई।  पुलिस ने युवती को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां उसका इलाज चल रहा है। युवती की हालत खतरे से बाहर है। अब समस्या यह है कि अगर युवती कुछ दिनों में ठीक भी हो जाती है तो उसके सामने जीवनयापन की समस्या खड़ी हो जाएगी। परिजनों की मर्जी के खिलाफ जाने वाली लड़की से नाराज परिजन उससे अस्पताल में मिलने तक नहीं गए हैं, जबकि उसकी दादी मिलना चाह रही है। वहीं परिजन कह रहे हैं कि अगर वह आती भी है तो उसे घर में घुसने नहीं दिया जाएगा। इस घटना के बाद शादी के घर में मातम पसरा हुआ है।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41677 MRP ₹ 50810 -18%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

परिजनों ने बताया कि घर में घायल युवती की शादी को लेकर तैयारियां जोर-शोर से चल रहीं थीं। गहने भी बना दिए गए थे, जिसे लेकर वह फरार हुई थी। बीते 29 दिसंबर को आयोजित घरेलू पार्टी में वह अपनी शादी को लेकर भी सभी रिश्तेदारों के साथ बातें कर रही थी। वह शादी को लेकर काफी खुश थी और उस लड़के से भी बातचीत किया करती थी, जिससे उसकी शादी होने वाली थी। बावजूद इसके उसने यह कदम अचानक उठा लिया। इस मामले में कहीं अधिक हैरान करने वाली बात यह है कि युवती को भगाने के आरोप में दिनेश नामक जिस युवक की हत्या की गई है। शनिवार शाम तक उसके शव का पोस्टमार्टम नहीं हुआ था। सूत्रों का कहना है कि परिजनों ने पुलिस से संपर्क नहीं साधा है। बिना परिजनों के शव दिए पोस्टमार्टम नहीं किया जा सकता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App