ताज़ा खबर
 

13 कानून खत्म कर पक्की हुई दिल्ली की कॉलोनियां : अमित शाह

उन्होंने कहा कि कच्ची कालोनी में रहने वालों के लिए केंद्र सरकार ने फैसला लिया। किसी सरकार ने इनकी चिंता नहीं की थी। इसमें 13 कानून इसकी अड़चन बने थे।

AMIT SHAHकेन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह। (एएनआई इमेज)

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि दिल्ली की कच्ची कॉलोनियों को पक्का करने के लिए केंद्र सरकार ने 13 कानून खत्म किए हैं। इन कानून को खत्म करने के बाद 1739 कॉलोनियों में रह रहे 40 लाख परिवारों के घरों के पक्का होने का रास्ता साफ हुआ है। उन्होंने दिल्ली सरकार पर सीधे हमले बोले और कहा कि दिल्ली में ऐसा मुख्यमंत्री दें जो दिल्ली के विकास में रोड़ा नहीं अटकाए।

गृह मंत्री ने गुरुवार को पूर्वी दिल्ली में एक सांस्कृतिक हब का शिलान्यास किया। अमित शाह ने कहा कि लोकसभा चुनाव में सातों सीट से जनता ने काम करने वाले सांसद चुनकर दिए हैं। ऐसे ही काम करने वाले विधायक भी आगामी विधानसभा चुनाव में चुनकर दें। उन्होंने कहा कि दिल्ली की आम आम पार्टी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल केंद्र सरकार के किए गए कार्यो का भी श्रेय ले रहे है और प्रचार के माध्यम से उन योजनाओं पर दिल्ली के नाम का ठप्पा लगाने की कोशिश कर रहे है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता काम करने वालों की पहचान करने वाली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो भी योजनाएं बनाई वे दिल्ली भी उनमें शामिल है। उन्होंने कहा कि कच्ची कालोनी में रहने वालों के लिए केंद्र सरकार ने फैसला लिया। किसी सरकार ने इनकी चिंता नहीं की थी। इसमें 13 कानून इसकी अड़चन बने थे। 40 लाख लोगों का कम दरों पर नियिमत कियाहै। इसका भी श्रेय दिल्ली सरकार लेने की कोशिश करेगी।

उन्होंने सवाल किया आज जो भी प्रचार किया जा रहा है। उसे दिल्ली सरकार ने पांच साल में पूरा क्यों नहीं किया। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने बीते सालों में कोई काम नहीं किया है और भाजपा सासंद प्रवेश वर्मा इस मामले में आप पार्टी के नेताओं को खुली चर्चा चुनौती भी दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि जहां झुग्गी वहीं मकीन योजनाभाजपा ने शुरू की है। पीएम आवास योजना का फायदा दिल्ली वालों को देने से आम आदमी पार्टी ने रोका है। उन्होंने दावा किया कि इस बार दिल्ली की जनता कमल फूल की सरकार बनाने वाली है। उन्होंने सवाल किया दिल्ली की सरकार ने आम जनता को नौकरियां देने का वादा किया था लेकिन युवाओं को रोजगार नहीं मिला है। दिल्ली में पानी की स्थिति खराब हुई है और केंद्र सरकार की पानी जांच रिपोर्ट में यह साबित हुआ है। पूर्वी दिल्ली हब के शिलान्यास कार्यक्रम में केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी, उपराज्यपाल अनिल बैजल, सांसद गौतम गंभीर, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, डीडीए सदस्य ओ.पी. शर्मा समेत डीडीए के अधिकारी व बड़ी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता भी शामिल हुए।

अमित शाह बोले दिल्ली के लिए ये हो रहे हैं काम
– 85 हजार झुग्गी का सर्वे किया जा रहा है
– दिल्ली को जल्द ही एक समर्पित साइकिल ट्रेक देने की तैयारी
– साबरमती की तर्ज पर यमुना क्षेत्र को चमकाया जाएगा
– 116 मेट्रो लाइन का विस्तार किया जाएगा
– रेपिड कॉरिडोर तेयार किए जाएंगे

दिल्ली में अब तक हुई 30 हजार रजिस्ट्री : हरदीप पुरी
गुरुवार केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि कच्ची कॉलोनियों को पक्का करने का काननू बन जाने के बाद अब तक 30 हजार लोगों ने अपने घरों की रजिस्ट्री कराई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की सभी कॉलोनियों के नक्शे अब आॅन लाइन उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने 2017 में विभिन्न परियोजना की समीक्षा की थी। उनमें कई परियोजना थी जिसमें दिल्ली सरकार को हिस्सेदारी थी। इन पर दिल्ली सरकार ने काम नहीु किया है। इनकी एक लम्बी सूची है। इसी प्रकार प्रधानमंत्री आवास योजना को भी दिल्ली सरकार ने मुख्यमंत्री योजना बनाने की कोशिश की। लेकिन अब शहरी विकास मंत्राल ने खुद इस पर काम शुरू किया है। सरकार ने एक करोड़ घर बनाने का लक्ष्य रखा था। इन मकान को बनाने की मंजूरी एक या दो दिन में मिल जाएगी। दिल्ली में डीडीए व डीयूसिब ने ऐसे 5 लाख से अधिक मकानों का सर्वेक्षण किया है। दिल्ली सरकार ने राजनीति करने के लिए करने की यह कोशिश की। उन्होंने बताया कि सरकार ने मेट्रो की परियोजनाओं में भी रोड़ा अटकाया है।

पूर्वी दिल्ली हब सरकार के कार्यकाल में ही होगा पूरा
पूर्वी दिल्ली में इंटीग्रेटिड डेवलमेंट हब भाजपा सरकार के कार्यकाल में ही पूरा किया जाएगा। इसकी नींव गुरुवार को देश के गृह मंत्री अमित शाह ने रखी। यह केंद्र आनंद विहार स्टेशन के पास तैयार होगा। इसके अतिरिक्त इसके आसपास मेट्रो के स्टेशन भी है। इस केंद्र ग्रीन पद्धति के आधार पर तैयार किया जाएगा। इस पूरे केंद्र को जोड़ने के लिए एक स्काईवॉक तैयार होगा। इसमें कार पार्किंग, स्कूल, औषधायल, पुस्तकलाय, सामुदायिक केंद्र, इंडोर गेम्स, क्रेच जैसी सुविधाएं होगी। इस परियोजना की पहले चरण में 1393 करोड़ रुपए खर्च होंगे। सांसद गौतम गंभीर ने कहा कि देशहित के फैसलों से करोड़ों युवाओं को जोड़ा है। यह पूर्वी दिल्ली का सबसे बड़ा तोहफा है। इसकी मदद से ईस्ट दिल्ली को बेस्ट दिल्ली बनाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि 2 साल में क्षेत्र के स्कूलों को डिजिटल करेंंगे। इसके अतिरिक्त क्षे9 के कूड़े के पहाड़ को खत्म करने की योजना पर काम किया जा रहा है। बतौर सासंद इसकी शुरुआत कम्पोस्ट प्लांट से हुई है। डीडीए के मुताबिक 30 हेक्टेयर में यह हब होगा। 2030 तक शहरीकरण बढेगा। यहां नजदीक में दो मेट्रो स्टेशन व जनदीक में आनंद विहार बस अड्डा होगा। पहला चरण साढ़े तीन साल में पूरा होगा। पूरे क्षेत्र को पैदल पथ से जोड़ा जाएगा। एनबीसीसी इस प्रोजेक्ट को पूरा करेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नागरिकता कानून विवाद: कड़ाके की ठंड में 12 दिनों से आंदोलन पर महिलाएं, बच्चे भी हैं साथ
2 साल भर में ही हो गया कांग्रेस से मोहभंग! सावित्री बाई फुले ने छोड़ी पार्टी; लगाया यह आरोप
ये पढ़ा क्या?
X