ताज़ा खबर
 

मोटिवेशनल गुरु और लेखक शिव खेड़ा से ठग लिए सवा करोड़ रुपये, आरोपी गिरफ्तार

लोगों को सफलता के सूत्र बताने वाले जाने-माने मोटिवेशनल गुरु शिव खेड़ा खुद ठगी के शिकार हो गए हैं। उन्हें एक हाई प्रोफाइल ठग ने फार्म हाउस की सस्ती जमीन दिलवाने के नाम पर करीब सवा करोड़ रुपये का चूना लगाया है।

जाने-माने मोटिवेशनल गुरु और लेखक शिव खेड़ा। फोटो-फेसबुक/Shiv Khera

लोगों को सफलता के सूत्र बताने वाले जाने-माने मोटिवेशनल गुरु शिव खेड़ा खुद ठगी के शिकार हो गए हैं। उन्हें एक हाई प्रोफाइल ठग ने फार्म हाउस की सस्ती जमीन दिलवाने के नाम पर करीब सवा करोड़ रुपये का चूना लगाया है। जब शिव खेड़ा को ठगी का अहसास हुआ तो उन्होंने पुलिस की शरण ली। अब पुलिस ने हाई प्रोफाइल ठग को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने जब ठग के नेटवर्क की पड़ताल की तो खुद अचंभे में आ गई है।

दिल्ली के इस हाई प्रोफाइल ठग का नाम पंकज दयाल है। इसके निशाने पर ज्यादातर दिल्ली के पॉश इलाकों में रहने वाले सरकारी अफसर और नए अमीर होते थे। उनसे करीबी बढ़ाने के लिए पंकज महंगी लाइफ स्टाइल जीता था। महंगी लग्जरी कारों में घूमता था। वह ऐसे लोगों को पैसे कमाने के आसान सूत्र बताकर अक्सर रियल एस्टेट में निवेश करने के लिए कहता था। इसके बार लोगों को फंसाकर करोड़ों रुपये ऐंठ लेता था। पुलिस को संदेह है कि पंकज दयाल ऐसे रसूखदारों के काले धन को भी ठिकाने लगाता था। इसीलिए ठगे जाने के बाद भी लोग उसके खिलाफ आवाज नहीं उठा पाते थे।

पंकज दयाल ने इस बार अपना निशाना जाने-माने लेखक शिव खेड़ा को बनाया। पंकज ने शिव खेड़ा को नजफगढ़ में फॉर्म हाउस के लिए जमीन दिलवाने का झांसा दिया। उसने शिव खेड़ा को जमीन भी दिखाई। आरोप है कि पेशगी के नाम पर उनसे 1 करोड़ 25 लाख रुपये ले लिए गए। लेकिन इसके बाद भी उन्हें फॉर्म हाउस नहीं मिला। तो शिव खेड़ा ने पुलिस में शिकायत कर दी। पुलिस आरोपी पंकज दयाल की तलाश में जुट गई और उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी पंकज दयाल ने लोगों को अपने जाल में फंसाने के लिए 30 फर्जी कंपनियां  भी बना रखी थीं। ये सभी कंपनियां सिर्फ कागजों पर ही चल रही​ थीं।

पुलिस की पड़ताल में पता चला है कि आरोपी पंकज दयाल के खिलाफ करीब आधा दर्जन मामले चल रहे हैं। लेकिन रसूखदारों से पहचान के कारण वह हमेशा ही बचकर निकल गया। यहां तक कि कभी उसे गिरफ्तार भी नहीं किया गया था। आरोपी पंकज दयाल के पास से मर्सिडीज कार और ढेरों फर्जी कागजात बरामद किए गए हैं। पुलिस फिलहाल आरोपी से पूछताछ में जुटी हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App