ताज़ा खबर
 

गोभक्तों की सरकार को चेतावनी, गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा नहीं मिला तो चुनाव में सिखाएंगे सबक

दिल्ली के रामलीला मैदान में देश भर से आए गोरक्षकों और गोपालकों के दल ने केंद्र सरकार से गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने की मांग की है।

Author नई दिल्ली | February 18, 2018 5:15 PM
प्रतीकात्मक चित्र

दिल्ली के रामलीला मैदान में देश भर से आए गोरक्षकों और गोपालकों के दल ने केंद्र सरकार से गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने की मांग की है। गौरक्षकों का कहना है कि केंद्र की मोदी सरकार अगर गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा नहीं देती है तो अगले साल होने वाले आम चुनावों में उसे गोभक्तों के गुस्से का सामना करना पड़ सकता है। रामलीला मैदान में गौ क्रांति मंच की ओर से आयोजित इस रैली में हजारों की संख्या में गोभक्तों का जमावड़ा हुआ है। रैली में आए हुए लोगों की एक ही मांग है कि गाय को राष्ट्रमाता घोषित किया जाए।

रैली में प्रेस विज्ञप्ति के जरिए भारत सरकार से गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने की मांग की गई है। साथ ही साथ विज्ञप्ति में यह चेतावनी भी दी गई है कि अगर केंद्र सरकार उनकी मांगें नहीं मानती तो आने वाले आम चुनावों में उसे गोभक्तों के गुस्से का सामना करना पड़ सकता है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि 2019 का लोकसभा चुनाव गोमाता के मुद्दे पर ही केंद्रित होगा। रैली को संबोधित करने वाले एक वक्ता ने कहा कि हर धर्मों और आस्थाओं का सम्मान होना चाहिए लेकिन हिंदू धर्म की आस्थाओं का सम्मान भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि हिंदू धर्म की आस्थ के सम्मान के लिए गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा मिलना ही चाहिए और इसीलिए हम आज केंद्र सरकार से यही मांग रखते हुए यहां इकट्ठा हुए हैं।

HOT DEALS

बता दें कि आज रामलीला मैदान में इस रैली के लिए गौ क्रांति मंच सहित तमाम गोरक्षकों और गो पालकों का दल लंबे समय से तैयारियों में लगा हुआ था। देश के तकरीबन हर हिस्सों से गो भक्तों का समूह रामलीला मैदान में इकट्ठा हुआ है। गौरतलब है कि गोहत्या पर प्रतिबंध समेत गाय से जुड़े अनेक मसले लंबे समय से राष्ट्रीय चर्चा के बिंदु बने हुए हैं। गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देने को लेकर कांग्रेस पार्टी भी सरकार का समर्थन करने के बारे में कह चुकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App