ताज़ा खबर
 

दिल्ली विश्वविद्यालय: परिसर के बाहर के कॉलेजों में सामान्य वर्ग की सीटें खाली

कॉलेज में बीकॉम आॅनर्स की 80 के करीब सामान्य वर्ग की सीटें खाली रह गई हैं।

Author नई दिल्ली | July 31, 2017 02:38 am
दिल्ली विश्वविद्यालय

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के परिस्ोर के बाहर के कुछ कॉलेजों में स्नातक पाठ्यक्रमों में सामान्य वर्ग की कुछ सीटें अभी भी बची हुई हैं। डीयू ने करीब 56,000 स्नातक सीटों के लिए सात कटआॅफ जारी की थीं, इसके बावजूद आरक्षित वर्ग के साथ सामान्य वर्ग की भी सीटें खाली रह गई हैं। अब कॉलेजों को डर है कि कहीं ये सीटें खाली ही न रह जाएं।
अंतिम समय तक विद्यार्थियों द्वारा दाखिला रद्द कराने की वजह से कई कॉलेजों में सातवीं कटआॅफ के बाद भी सामान्य वर्ग की काफी सीटें खाली रह गई हैं। इस संबंध में कॉलेजों ने विश्वविद्यालयों के अधिकारियों को भी जानकारी दे दी है। श्री अरविंदो कॉलेज (सांध्य) की प्राचार्य डॉ नमिता राजपूत ने बताया कि उनके कॉलेज में बीकॉम आॅनर्स की 80 के करीब सामान्य वर्ग की सीटें खाली रह गई हैं।

उनके यहां सभी पाठ्यक्रमों को मिलाकर सामान्य वर्ग की करीब 130 सीटें खाली रह गई हैं। डॉ राजपूत ने कहा कि हमने इस बारे में विश्वविद्यालयों को जानकारी दे दी है। उनके मुताबिक, वह आरक्षित वर्गों के साथ सामान्य वर्ग के लिए भी आठवीं कटआॅफ जारी करेंगी जो गुरुवार को घोषित होगी। इसके अलावा परिसर के बाहर के सभी कॉलेजों में सामान्य वर्ग की 2 से लेकर 10 सीटें खाली रह गई हैं। विश्वविद्यालय की ओर से अभी तक सामान्य वर्ग की खाली सीटों को भरने के बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है,लेकिन सूत्रों के मुताबिक विश्वविद्यालय एक और कटआॅफ लाने के बारे में सोच सकता है।

आरक्षित श्रेणी की सीटों के लिए विशेष अभियान

डीयू ने आरक्षित और कोटा वर्ग की खाली सीटों के लिए विशेष अभियान चलाने का फैसला किया है। इस अभियान का लाभ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, दिव्यांग व कश्मीरी प्रवासी आदि के साथ खेल और विशेष प्रतिभा (ईसीए) कोटे के तहत पंजीकरण करने वाले उम्मीदवारों को भी होगा। अभियान के तहत सिर्फ वही उम्मीदवार भाग ले सकते हैं जिनका अभी तक किसी भी कॉलेज में दाखिला नहीं हुआ है। इसके अलावा कोई नया पंजीकरण स्वीकार नहीं किया जाएगा। इस अभियान के तहत उम्मीदवार वास्तविक दस्तावेज दिखाकर आरक्षित श्रेणी में बदलाव कर सकेंगे।

खेल और ईसीए कोटे के तहत आवेदन करने वाले छात्र अपने कॉलेज और पाठ्यक्रम बदल सकते हैं। ये बदलाव 2 अगस्त तक डीयू के उत्तरी परिसर स्थित कांफ्रेंस सेंटर के कमरा नंबर एक में कराए जा सकते हैं। उम्मीदवारों को पंजीकरण फॉर्म और अपने वास्तविक दस्तावेजों के साथ यहां पहुंचना होगा। इसके बाद 3 अगस्त को आठवीं कटआॅफ जारी की जाएगी, जिसके आधार पर 3 और 4 अगस्त को दाखिला लिया जा सकता है। इसके बाद नौवीं कटआॅफ के आधार पर 7 से 9 अगस्त तक प्रवेश लिया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App