X

सीवर में उतरे चार मजूदरों की दम घुटने से मौत, मोतीनगर में हुआ हादसा, एक श्रमिक की हालत गंभीर

मोती नगर इलाके के कैपिटल ग्रीन डीएलएफ केपी टॉवर में सीवर की सफाई करने के दौरान दम घुटने से चार मजदूरों की मौत हो गई।

मोती नगर इलाके के कैपिटल ग्रीन डीएलएफ केपी टॉवर में सीवर की सफाई करने के दौरान दम घुटने से चार मजदूरों की मौत हो गई। एक मजदूर बेहोश हो गया था, जिसका इलाज आरएमएल अस्पताल में किया जा रहा है। मजदूरों को सीवर में उतारने वाला ठेकेदार फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। घटना की जानकारी रविवार शाम करीब तीन बजे पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस सभी को पास के आचार्य भिक्षु अस्पताल में लेकर गई, जहां डॉक्टरों ने चार को मृत घोषित कर दिया। जिला पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मजदूरों की पहचान पंकज, राजा, सरफराज और उमेश कुमार तिवारी के रूप में हुई है। उमेश कुमार और सरफराज डीएलएफ में साफ सफाई यानी हाउस कीपिंग का काम करते थे।

बताया जा रहा है कि उसे ठेकेदार ने जबरन सीवर में उतारा था। शुरुआती छानबीन में पुलिस को पता चला है कि ठेकेदार ने मजदूरों को सुरक्षा से जुड़े उपकरण भी मुहैया नहीं कराया था। फिलहाल फरार चल रहे ठेकेदार के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और उसकी तलाश में जुटी है। पश्चिमी जिला पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज के मुताबिक ठेकेदार ने रविवार को पांच मजदूरों को सीवर की सफाई करने के लिए कहा था। बताया जा रहा है कि बिना सुरक्षा उपकरण के इन मजदूरों को सीवर की सफाई में लगा दिया था।

इस दौरान जब नीचे उतरे मजूदरों का दम घुटने लगा और वे बेहोश होने लगे तो आनन-फानन में पंकज और उमेश कुमार तिवारी को भी नीचे उतार दिया गया। जब वे नहीं लौटे तो इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने सभी को आचार्य भिक्षु अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने चार को मृत घोषित कर दिया। वहीं, विशाल की हालत गंभीर होने की वजह से उसे आरएमएल अस्पताल भेज दिया गया। पुलिस ने बताया कि सभी टावर के पास ही झुग्गी में रहते थे।

Outbrain
Show comments