ताज़ा खबर
 

दिल्ली: होली पर हुए विवादों में चार लोगों की हत्या, हुड़दंगियों ने जीआरपी के जवान को पीट-पीट कर किया घायल

जीतू और आरोपी एक ही झुग्गी बस्ती में रहते हैं। होली के दिन शाहबाद डेयरी इलाके में हुड़दंगियों ने एक आटो चालक की डंडों से पीट कर हत्या कर दी।

Author नई दिल्ली | March 15, 2017 1:15 AM
पत्नी की हत्या के आरोप में पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर लिया है। (सांकेतिक फोटो)

होली पर अलग-अलग विवादों में चार की हत्या और तीन लोगों पर जानलेवा हमला किया गया हैं। पुलिस सभी मामलों की जांच कर रही है। प्रेम और भाईचारा का पर्व होली इस बार राजधानी के लिए दागदार साबित हुआ। दिल्ली के भारत नगर, शाहाबाद डेयरी, ज्योतिनगर, अमन विहार, दरियागंज और पुल प्रहलादपुर में वारदाते हुईं। हुड़दंगियों ने शिवाजी पुल पर जीआरपी के एक जवान को पीट-पीट कर घायल कर दिया। उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। भारत नगर के सावन पार्क इलाके में होली की शाम सोमवार को एक सनसनीखेज वारदात हुई। चार दोस्तों ने मिल कर होली खेलने की योजना बनाई। एक साथ शराब का सेवन किया और आखिर में रुपए के विवाद के चलते एक दोस्त की पत्थरों से सिर कुचल कर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। उनकी पहचान हो गई है लेकिन पुलिस के हाथ नहीं लगा है। शुरुआती जांच में मृतक जीतू (23) के बारे में पता चला है कि वह कुछ दिन पहले ही जेल से बाहर आया था। उसका आपराधिक रेकार्ड खंगाला जा रहा है। हत्या आरोपी उसके ही दोस्त बताए जा रहे हैं जिनके साथ उसने होली खेली और शराब पीया। हत्यारे बीच रोड पर जीतू के सिर पर उस समय तक पत्थरों से ताबड़तोड़ वार करते रहे जब तक उसने दम नहीं तोड़ा। पुलिस मौके पर पहुंची तो मृतक का चेहरा कुचला हुआ था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। उनमें दो की पहचान हो गई है। जीतू और आरोपी एक ही झुग्गी बस्ती में रहते हैं। होली के दिन शाहबाद डेयरी इलाके में हुड़दंगियों ने एक आटो चालक की डंडों से पीट कर हत्या कर दी। मरने वाली की पहचान 44 साल के गिरधारी लाल के तौर पर हुई। शव को पोस्टमार्टम के लिए अांबेडकर अस्पताल में रखवाया गया है। सूत्रों के मुताबिक होली खेल रही एक टोली से गिराधारी लाल का झगड़ा हो गया था। उसके बाद कई लोगों ने उन्हें लाठी-डंडों से पीटा और फरार हो गए। गिरधारी को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां मंगलवार सुबह उसकी मौत हो गई। उनके परिवार में पिता उर्जित मंडल, पत्नी, दो बेटियां और एक बेटा है।

उधर ज्योतिनगर की अशोक नगर कालोनी में होलिका दहन की रात एक युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने हत्या के आरोप में दो युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि तीनों के बीच नशे में झगड़ा हुआ था। पीसीआर को वारदात की सूचना रात साढ़े नौ बजे मिली। ज्योतिनगर पुलिस मौके पर पहुंची तो एक युवक खून से लथपथ मिला। अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने मृत बताया। उसकी पहचान 18 साल के चिंटू के तौर पर हुई। शुरुआती जांच में पता चला कि उसका शराब के नशे में पड़ोसी युवकों से झगड़ा हुआ था जिसके बाद उसके ऊपर चाकू से वार किए गए। पुलिस ने हत्या के आरोप में अरविंद और प्रवीण को गिरफ्तार भी कर लिया है। इसके अलावा सोमवार को बाहरी दिल्ली के अमन विहार इलाके में रंग लगाने को लेकर हुए विवाद में एक युवक की चाकू से मार कर हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान 22 साल के धीरेंद्र के रूप में हुई है। पुलिस ने इस मामले में एक नाबालिग को पकड़ा है। धीरेंद्र अमन विहार थाना इलाके के प्रेम नगर में रहता था। दरियागंज में भी होलिका दहन की रात घरेलू कलह के चलते भतीजे ने अपने चाचा के ऊपर डंडे से ताबड़तोड़ वार किए जिससे उनके सिर व हाथ में गंभीर चोटें आई हैं। उनकी शिकायत पर पुलिस ने आरोपी भतीजे के खिलाफ गैर इरादतन हत्या की कोशिश का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि घायल व्यक्ति हाथ और पैर से लाचार हैं। उनकी उम्र लगभग 57 साल है। घटना कूचा लाल मन में रहने वाले अमित शर्मा के साथ हुई। उन्होंने पुलिस को बताया कि उस रात उनकी बड़े भाई से कहासुनी हो रही थी। वे पहली मंजिल पर थे। रात करीब साढ़े आठ बजे भूतल से उनका भतीजा नितिन गालियां देता ऊपर आया। उनके ऊपर डंडे से वार किए जिससे उनके सिर व हाथ पर चोटें आईं। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि उस रात मोबाइल न होने के कारण वह पुलिस को काल नहीं कर सकें सोमवार को होली पर एक दोस्त उनसे मिलने आया तो उसके मोबाइल से पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने उनके बयान लिए और मेडिकल करवाया। मेडिकल रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

होलिका दहन के दिन पुल प्रहलादपुर इलाके में कुछ आवारा किस्म के लड़कों को होलिका दहन के बाद डांटकर वहां से जाने के लिए कहना एक पुलिसवाले के बेटे को भारी पड़ गया। गुस्साएं युवकों ने उसे चाकू से गोदकर बुरी तरह घायल कर दिया। गंभीर रूप से घायल युवक अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है। पीड़ित युवक दिल्ली पुलिस में तैनात सब इंस्पेक्टर का बेटा है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में दो नाबालिग समेत चार को पकड़ा है। परिवार वालों ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि सुरेंद्र प्रहलादपुर के प्रेम नगर में रहता है। जब होलिका दहन हो गई तो वहां पर कुछ लड़कों को उसने डांटकर जाने को कहा।  इस पर उन आवारा लड़कों को गुस्सा आ गया। सुरेंद्र जिस कार से वहां आया था उसी कार पर आरोपियों ने उसे लिटाकर चाकू से हमला कर दिया, फिर फरार हो गए। जान बचाकर सुरेंद्र किसी तरह घर पहुंचा और बेहोश हो गया। घायल सुरेंद्र को पास के अस्पताल ले जाया गया। जहां उसकी हालत चिंताजनक है। सोमवार रात तक उसे होश नहीं आया था।

इस मामले में प्रहलादपुर थाने की पुलिस ने दो नाबालिग सहित चार युवकों को पकड़ा है। सुरेंद्र प्रेम नगर में ही प्रॉपर्टी का कारोबार करता है। होली के हुड़दंग से खाकी वर्दी भी नहीं बच पाई। शिवाजी पुल रेलवे स्टेशन के फुटओवर पुल पर बैठकर शराब पी रहे युवकों को जब जीआरपी जवान ने मना किया तो शराबियों ने उसके सिर पर शराब की बोतल मारकर सिर फोड़ दिया और बुरी तरह पीटा। जान से मारने तक की धमकी दी गई और वायरलेस सेट लूट कर ले गए। जवान ने खुद को बचाने के लिए 100 नंबर से मदद मांगी। पुलिस ने उसे राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया। जीआरपी ने कई गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया है। जब रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा करने वाले ही सुरक्षित नहीं हैं, ऐसे में यात्रियों की सुरक्षा के इंतजामात का अंदाजा सहज लगाया जा सकता है। बताया जा रहा है कि कर्णवीर सिंह जीआरपी नई दिल्ली थाने में हैड कांस्टेबल हैं। होली के दिन उनकी ड्यूटी शाम के समय तिलक ब्रिज और शिवाजी रेलवे स्टेशन पर थी। वह सोमवार शाम सात बजे शिवाजी ब्रिज रेलवे स्टेशन पर गश्त करते हुए फुटओवर ब्रिज पर चढ़ रहे थे। प्लाटफॉर्म नंबर-तीन व चार की ओर करीब आधा दर्जन आदमी संदिग्ध हालात में बैठे थे और हुड़दंग कर रहे थे। वह उनके पास पहुंचे और ऐसा करने से मना किया। इस पर सभी कर्णवीर से उलझ गए।
उनके हाथ से वायरलेस छीन लिया और कहा कि आज तेरा काम तमाम करते हैं। पहले वायरलेस से ही सिर पर वार किया। फिर एक व्यक्ति ने बोतल सिर पर मार दी और फुटओवर पुल से धक्का दिया। कर्णवीर सीढ़ियों से नीचे गिर गए। इसके बाद हुड़दंगी फरार हो गए। उसने 100 नंबर पर कॉल करके मदद मांगी। पीसीआर ने उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। जीआरपी का कहना है कि इस मामले में जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

 

 

52 साल के होने पर आमिर खान ने कहा- "उम्र सिर्फ एक नंबर है"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App