ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव आयोग से कहा- EVM की जगह बैलेट पेपर से कराएं एमसीडी चुनाव

सोमवार को कांग्रेस नेता अजय माकन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री को एमसीडी चुनाव बैलेट पेपर से कराए जाने की सलाह दी थी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (File Photo: PTI)

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को मिले भारी बहुमत के बाद विरोधियों ने ईवीएम (इलेट्रॉनिक वोटिंग मशीन) में गड़बड़ी का मुद्दा उठाया था। अब इस मामले को और हवा देते हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने चुनाव आयोग को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में केजरीवाल ने दिल्ली में होने वाले आगामी नगरपालिका चुनाव (MCD) में ईवीएम मशीन का इस्तेमाल ना करने की मांग की है। बात दें कि अगले महीने अप्रैल में एमसीडी चुनाव होने हैं। अरविंद केजरीवाल ने चुनाव आयोग से कहा कि एमसीडी इलेक्शन ईवीएम मशीन की जगह बैलेट पेपर से कराए जाएं।

बता दें कि 11 मार्च को पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव नतीजे आने के बाद कई नेताओं ने ईवीएम मशीन में गड़बड़ी किए जाने का दावा किया था और जांच की मांग की थी। इसी मद्देनजर सोमवार को कांग्रेस नेता अजय माकन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री को एमसीडी चुनाव बैलेट पेपर से कराए जाने की सलाह दी थी। अजय माकन ने ट्विट कर लिखा था, “ईवीएम मशीन पर कई लोगों ने सवाल खड़े किए हैं। मैं चाहता हूं कि निष्पक्ष और निर्विवाद चुनाव के लिए अरविंद केजरीवाल बैलेट पेपर के जरिए एमसीडी चुनाव कराएं।”

HOT DEALS
  • Moto G6 Deep Indigo (64 GB)
    ₹ 15810 MRP ₹ 19999 -21%
    ₹1500 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 13989 MRP ₹ 16999 -18%
    ₹2000 Cashback

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह पहले ही कह चुके थे कि अगर उत्तर प्रदेश में नगर पालिका और नगर पंचायत के चुनाव बैलेट पेपर से करवाए जा सकते हैं तो दिल्ली में भी नगर निगम चुनाव बैलेट पेपर से करवाए जा सकते हैं। बता दें कि चुनाव आयोग मंगलवार शाम चुनाव की तारीखों का एलान कर देगा। माना जा रहा है कि अप्रैल के पहले हफ्ते में चुनाव हो सकते हैं। वर्तमान में एमसीडी पर भारतीय जनता पार्टी का कब्जा है।

दिल्ली: अरविंद केजरीवाल की चुनाव आयोग से मांग- "ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से करवाए जाएं MCD चुनाव"

मायावती ने ईवीएम के साथ छेड़छाड़ का लगाया था आरोप; कहा था- "दोबारा हों चुनाव"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App