ताज़ा खबर
 

डीटीयू: एक जुलाई से शुरू होंगे दाखिले, नए परिसर में बीए (आॅनर्स), बीबीए और एमबीए कोर्स शुरू

पहले डीटीयू के पूर्वी परिसर के लिए खिचड़ीपुर स्थित डॉ. होमी जहांगीर भाभा आइटीआइ का चयन किया गया था जो किसी कारणवश बदल दिया गया।

Author नई दिल्ली | Published on: June 20, 2017 12:13 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

सुशील राघव   

दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (डीटीयू) के पूर्वी दिल्ली परिसर में एक जुलाई से प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। विवेक विहार स्थित शहीद सुखदेव कॉलेज आॅफ बिजनेस स्टडीज में शुरू होने वाले इस परिसर में मुख्य रूप से प्रबंधन और अर्थशास्त्र के पाठ्यक्रम पढ़ाए जाएंगे। नए परिसर में सुविधाएं बढ़ने के साथ एमटेक और बीटेक पाठ्यक्रम भी शुरू किए जाएंगे। डीटीयू के कुलपति प्रोफेसर योगेश सिंह ने बताया कि हम इस साल पूर्वी परिसर में तीन पाठ्यक्रम बीए (आॅनर्स) अर्थशास्त्र, बैचलर आॅफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (बीबीए) और मॉस्टर आॅफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए) शुरू करने जा रहे हैं। इन पाठ्यक्रमों के लिए एक जुलाई से आॅनलाइन प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। उन्होंने बताया कि बीए (आॅनर्स) अर्थशास्त्र और बीबीए में 120 जबकि एमबीए में 60 सीटों से शुरुआत की जा रही है। अगले साल सीटों की संख्या के अलावा पाठ्यक्रमों में भी बढ़ोतरी की जाएगी। पहले डीटीयू के पूर्वी परिसर के लिए खिचड़ीपुर स्थित डॉ. होमी जहांगीर भाभा आइटीआइ का चयन किया गया था जो किसी कारणवश बदल दिया गया।

दिल्ली सरकार के विश्वविद्यालयों ने अपने नए परिसर खोलने शुरू किए हैं। पिछले साल अंबेडकर विश्वविद्यालय, दिल्ली (एयूडी) ने कर्मपुरा में अपना परिसर खोलकर इसकी शुरुआत की थी। इसी क्रम में डीटीयू का पूर्वी परिसर विवेक विहार में शुरू किया जा रहा है। जरूरत पड़ने पर इसका विस्तार भी किया जाएगा। दिल्ली पॉलीटेक्निक के साथ ही डीटीयू की शुरुआत 1941 में हुई थी। उस समय यहां छात्रों को तकनीकी, इंजीनियरिंग, कला, आर्किटेक्चर, फार्मेसी और कॉमर्स के पाठ्यक्रम पढ़ाए जाते थे। 1952 में दिल्ली विश्वविद्यालय ने इसे मान्यता दी और दिल्ली पॉलीटेक्निक से दिल्ली इंजीनियरिंग कॉलेज बन गया। 1963 में दिल्ली इंजीनियरिंग कॉलेज को दिल्ली सरकार को सौंप दिया गया। 2009 में दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानून के साथ ही दिल्ली कॉलेज आॅफ इंजीनियरिंग (डीटीयू) बन गया। 1996 में डीटीयू परिसर कश्मीरी गेट से बवाना रोड स्थित अपने वर्तमान स्थान पर स्थानांतरित हुआ।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दिल्ली: अपना बिजनेस करने के लिए बहन ने अपने भाई के कर में ही डलवाई डकैती, ऐसे खुला मामला
2 दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के घर पहुंची सीबीआई, मनी लॉन्ड्रिंग केस में पत्नी से पूछताछ
3 डॉक्टरों ने कहा- मर गया, मां-बाप दफनाने लगे तो जिंदा पाया गया बच्चा
जस्‍ट नाउ
X