ताज़ा खबर
 

…और ठहर गई है बसों के आने-जाने की सूचना

क्लस्टर बसों के आने की खबर देने वाले इंफॉरमेशन कियोस्क अब सिर्फ डिब्बा बनकर रह गए हैं। बस यात्रियों की सुविधा के लिए दिल्ली सरकार ने नई दिल्ली व बीआरटी कॉरिडोर के आसपास बस इंफॉरमेशन कियोस्क लगाए थे।

Author नई दिल्ली | February 11, 2019 5:05 AM
प्रतीकात्मक फोटो (फाइल)

पंकज रोहिला

क्लस्टर बसों के आने की खबर देने वाले इंफॉरमेशन कियोस्क अब सिर्फ डिब्बा बनकर रह गए हैं। बस यात्रियों की सुविधा के लिए दिल्ली सरकार ने नई दिल्ली व बीआरटी कॉरिडोर के आसपास बस इंफॉरमेशन कियोस्क लगाए थे। इन्हें लगाने का उद्देश्य यह था कि यात्रियों को उनके रूट पर जाने वाली बसों की पूर्व सूचना दी जा सके, लेकिन अब हालत यह है कि दिल्लीभर के बस स्टॉप पर लगे ये कियोस्क बेकार पड़े हैं और कोई भी सरकारी एजंसी इनकी सुध लेती नजर नहीं आ रही है। बसों की सूचना देने वाले इन कियोस्क को लगाने के वक्त दिल्ली सरकार ने दावा किया था कि इस सूचना के जरिए बसों में देरी होने की स्थिति में यात्री अन्य विकल्प जैसे मेट्रो, ऑटो या टैक्सी का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस कियोस्क को जीपीओ, केजी मार्ग, जनपथ व बीआरटी कॉरिडोर और नई दिल्ली पालिका परिषद के प्रमुख मार्गों पर लगाया गया है। ये कियोस्क केवल नारंगी बसों की सूचना देने के लिए लगाए गए थे और बाद में इसमें डीटीसी की बसों को भी शामिल किया जाना था, लेकिन इससे पहले ही यह योजना ठप होती नजर आ रही है।

जानकारी के मुताबिक, बस स्टॉप पर लगे इंफॉरमेंशन कियोस्क व बस में लगे ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) की ट्रैकिंग के जरिए डिम्ट्स स्टॉप पर आने वाली बसों की पूर्व सूचना जारी करता था। इस समय डिम्ट्स दिल्ली में करीब 1700 बसों का संचालन कर रहा है। नाम न बताने की शर्त पर यात्रियों ने बताया कि ये कियोस्क दो महीने से भी अधिक समय से बंद पड़े हैं। पहले कियोस्क से बसों की सूचना मिलने की वजह से वे थोड़ा इंतजार कर लेते थे और उसी हिसाब से आगे की यात्रा की योजना बनाते थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App