scorecardresearch

एक्साइज घोटाले से ध्यान हटाने के लिए नाटक, केजरीवाल ने 12वीं के बाद बच्चों को इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स कराने का किया ऐलान तो लोगों ने मारा ताना

दिल्ली के अलग-अलग जगहों पर सरकार द्वारा 50 सेंटर खोले जाएंगे और करीब एक लाख बच्चों को पहले फेज में अंग्रेजी सिखाई जाएगी।

एक्साइज घोटाले से ध्यान हटाने के लिए नाटक, केजरीवाल ने 12वीं के बाद बच्चों को इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स कराने का किया ऐलान तो लोगों ने मारा ताना
अरविंद केजरीवाल (फोटो सोर्स:ट्विटर/@ArvindKejriwal)

दिल्ली सरकार की आबकारी नीति को लेकर उपराज्यपाल वीके सक्सेना संतुष्ट नहीं हैं और इसी कारण उन्होंने इसको लेकर सीबीआई जांच की शिकायत की है। वहीं इसी बीच शनिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ऐलान किया कि बच्चों की इंग्लिश ठीक करेंगे और इसके लिए दिल्ली सरकार स्पोकन इंग्लिश कोर्स चलाएगी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा, “शिक्षा के क्षेत्र में दिल्ली में जबरदस्त क्रांति हुई है और गरीबों के बच्चों को सस्ती और अच्छी शिक्षा मिली है। हम नहीं चाहते कि हमारे बच्चे सुविधाओं वालों बच्चों से किसी भी हालत में कमतर हों। जिन बच्चों की इंग्लिश कमजोर है, उन बच्चों के लिए दिल्ली सरकार स्पोकन इंगिलश कोर्स लेकर आएगी और 12वीं पास बच्चे इसके लिए दाखिला ले सकते हैं। इसके लिए दिल्ली में 50 सेंटर खोले जाएंगे।”

अरविन्द केजरीवाल के ऐलान पर ट्विटर यूजर उनपर ताने मार रहे हैं और एक्साइज घोटाले की याद दिला रहे हैं। त्रिलोक नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, “निर्णय अच्छा है पर शिक्षक क्या विदेश से मंगवाओगे? दिल्ली में तो शिक्षक है नहीं, होते तो भर्ती खुलती।” वहीं गोपाल तिवारी नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, “भाई 2022 में सारे स्कूल इंग्लिश मीडियम का बोर्ड केवल एक सीबीएसई कर दो। बच्चों को अपने आप अंग्रेजी बोलना आ जायेगी।”

गौरव शर्मा नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा कि एक्साइज घोटाले से ध्यान हटाने के लिए बस नाटक कर रहे हैं। वहीं आरके नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा कि 10वीं के रिसल्ट आए हैं, जिसमे दिल्ली के सरकारी स्कूल से पास होने वाले छात्र सिर्फ 81% हैं। वाह! क्या मॉडल है।” सोशल मीडिया पर कई लोग 12वीं के बाद स्पोकन इंगिलश कोर्स लाने के लिए दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री केजरीवाल पर निशाना साध रहे हैं।

दिल्ली सरकार दिल्ली के अलग-अलग जगह पर 50 सेंटर खोलेगी और करीब 1 लाख बच्चों को स्पोकन इंगिलश कोर्स के माध्यम से अंग्रेजी सिखाई जाएगी। दिल्ली सरकार इसके लिए 950 रुपये सिक्यूरिटी मनी लेगी, ताकि कोई बच्चा कुछ दिन में ही कोर्स छोड़ के न जाए। अरविन्द केजरीवाल ने बताया कि शिफ्ट में इंग्लिश की क्लास होगी।

पढें नई दिल्ली (Newdelhi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट