ताज़ा खबर
 

दूसरों पर चंदे की धांधली का आरोप लगाने वाली AAP की साइट से डोनर लिस्ट का ऑप्शन गायब

साइट से उन तमाम ऑप्शन को हटा दिया गया है जहां डोनर से जुड़ी जानकारी दी जा रही थीं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

आम आदमी पार्टी (एएपी) ने चंदे से जुड़ी अपनी वेबसाइट दोबारा लांच की है। इस बार साइट में तमाम नए ऑप्शन और अन्य पेज जोड़े गए हैं। साइट को इस बार पहले से ज्यादा आसान बनाया है। हालांकि साइट से इस बार उन तमाम ऑप्शन को हटा दिया गया है जहां डोनर से जुड़ी जानकारी दी जा रही थीं। जी हां, चंदे से जुड़ी प्रारदर्शिता का दावा करने वाली और चंदे को लेकर राजनीतिक दलों पर सवाल उठाने वाली आप ने डोनर लिस्ट के ऑप्शन को साइट से हटा दिया है। गौरतलब है कि पिछले साल वेबसाइट ने तकनीकी खामी का हवाला देते हुए इस ऑप्शन को हटाया था। एनबीटी की खबर के अनुसार आप ने साल 2016 में डोनर लिस्ट को पेज से हटाया था। जब भी डोनर लिस्ट के ऑप्शन पर क्लिक किया जाता तो किसी तकनीकी खामी का हवाला देते हुए पेज ना खुलने की समस्या बताई जाती। हालांकि बाद में पार्टी ने कहना शुरू कर दिया कि वेबसाइट की मेनटेनेंस का काम चल रहा है, कुछ समय में यह समस्या ठीक हो जाएगी। मामले में आप की तरफ से सफाई दी गई थी कि डोनर लिस्ट को इसलिए हटाया गया क्योंकि पार्टी को चंदा देने वालों को आयकर विभाग आदि एजेंसियां परेशान कर रही हैं। लेकिन अब पार्टी अपनी वेबसाइट को रीलॉन्च कर चुकी है। इसमें पार्टी ने नीले रंग की झाड़ू वाला लोगो लगाया है।

वहीं वेबसाइट के पेज पर नीले और सफेद रंग का ही इस्तेमाल किया गया है। पार्टी ने तमाम फेरबदल करते हुए वेबसाइट में अपने कार्यकाल की कई उपलब्धियां, मंत्रियों के नाम व प्रोफाइल, संगठन की जानकारी आदि कई जानकारियां नए रूप से जारी की है। डोनेशन का ऑप्शन भी रखा है लेकिन डोनर लिस्ट को सिरे से गायब कर दिया गया है। पार्टी ने अपने इस डोनेशन पेज पर यह दावा किया है कि उसे 100 फीसदी नोन सोर्स से चंदा मिलता है और कुल चंदे की 8 प्रतिशत राशि ही कैश में ली गई है। वेबसाइट पर भाजपा के सिर्फ 35 फीसदी चंदे और कांग्रेस के 17 फीसदी चंदे को नोन सोर्स का बताया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App