ताज़ा खबर
 

पूर्णबंदी से छूट मिलते ही खूब तोड़े दिल्ली वालों ने नियम, शाहदरा और उत्तरी दिल्ली मनमानी में आगे

करीब दो माह के आंकड़ों से पता चलता है कि औसतन दिल्ली में हर दिन 3053 लोगों को टीम ने पकड़ा है और हर घंटे 129 लोगों पर कार्रवाई की है।

दिल्ली में पूर्ण बंदी से छूट मिली तो लोग बेपरवाह होकर सड़कों और बाजारों में भीड़ लगाने लगे। (फोटो- गुरमीत सिहं- इंडियन एक्सप्रेस)

कोरोना नियमों में मिली ढिलाई के बाद दिल्ली वाले हर दिन नियमों को तोड़ रहे हैं। वे मास्क न पहनने और दो गज की दूरी का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे ही नियमों को लगातार 62 दिन में दिल्ली वालों ने जमकर तोड़ा और इस दौरान दिल्ली की सरकारी एजंसियों ने 1,89,307 चालान किए हैं। हालांकि इसके बाद भी बाजारों में खुलेआम नियमों का उल्लंघन देखा जा सकता है। इस पर अदालत ने भी संज्ञान लिया है। नियमों को तोड़ने में उत्तरी दिल्ली और शाहदरा आगे हैं। करीब दो माह के आंकड़ों से पता चलता है कि औसतन दिल्ली में हर दिन 3053 लोगों को टीम ने पकड़ा है और हर घंटे 129 लोगों पर कार्रवाई की है।

सबसे खराब हालात उत्तरी दिल्ली जिला के सामने आए हैं, यहां पर सबसे अधिक 27,373 लोगों को ऐसे उल्लंघन के मामलों में पकड़ा गया है। जबकि दूसरे पायदान पर शाहदरा और तीसरे नंबर पर उत्तर पूर्व दिल्ली रहा है। ये दिल्ली के सबसे घनी आबादी वाले इलाकों में शुमार है। ये उल्लंघन तीसरी लहर के खतरे के बीच सरकारी एजंसियों के लिए खतरे की घंटी बजा रहे हैं। इन चालान की संख्या अप्रैल 17 से 27 मई के बीच ढाई से तीन हजार के बीच ही रही है। छूट बढ़ते ही चालान का आंकड़ा भी बढ़ता गया।

आंकड़ा 10 जून तक बढ़कर 3800 के आसपास तक पहुंच गया था। फिर अगली राहत में यह 4200 प्रतिदिन का आंकड़ा रहा और 17 जून तक बढ़कर 5301 तक पहुंच गया। दिल्ली में अब तक पांच से छह चरण में ये राहत दी जा चुकी है।

कहां हुए कितने चालान
उत्तरी में 27373, उत्तर पश्चिम में 8392, पश्चिम में 14833, दक्षिण पश्चिम में 11511, मध्य में 13405, उत्तर पूर्व में 20055, शाहदरा में 26438, पूर्व में 17968, नई दिल्ली में 13351, दक्षिण पूर्व में 17421, दक्षिण में 21295।

दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 165 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान संक्रमण की दर गिरकर 0.22 फीसद तक आ गई है और इन 24 घंटे में 14 मरीजों की मौत हुई है। दिल्ली सरकार ने 24 घंटे में 76,480 जांच की है। शुक्रवार को 260 मरीज ठीक होकर वापस अपने घर गए हैं।

सरकारी रिपोर्ट के मुताबिक अब दिल्ली में सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर 2445 हो गई है और 698 ऐसे भी मरीज हैं जिनका इलाज घर में एकांतवास में किया जा रहा है। इसी प्रकार अस्पताल में 1486, कोविड केयर सेंटर में 85 व कोविड हेल्थ सेंटर में 11 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। दिल्ली सरकार ने 24 घंटे में 53724 आरटीपीसीआर और 22756 एंटीजन जांच की हैं। इस समय दिल्ली के अंदर कुल 5452 सील क्षेत्र हैं। इन क्षेत्रों में कोरोना संबंधित नियमों का सख्ती से पालन किया जा रहा है।

Next Stories
1 संजय सिंह बोले- चैनलों पर झूठ बोल रहे संबित पात्रा और चंपत राय, आप पत्रकार होकर कैसी बात कर रहे हैं
ये पढ़ा क्या?
X