ताज़ा खबर
 

डीयू के पोर्टल में पहले ही दिन आई समस्या, छात्र हुए परेशान

जैसे-तैसे सुबह 10:00 बजे के आसपास जब यह समस्या ठीक हुई तो इसके बाद कॉलेज अपने डेशबोर्ड तक नहीं पहुंच पा रहे थे, जिसकी वजह उन्हें विद्यार्थियों की सीट को लॉक करने में परेशानी आ रही थी।

Author नई दिल्ली | June 25, 2017 2:28 AM
दिल्ली विश्वविद्यालय।

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में शनिवार से स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश शुरू हुए हो गए लेकिन पहले ही दिन विश्वविद्यालय के दाखिला पोर्टल में आई समस्या की वजह से हजारों छात्रों को प्रवेश प्रक्रिया के दौरान परेशानी का सामना करना पड़ा। समस्या देर शाम तक जारी रही जिसकी वजह से बहुत सारे छात्र अपनी फीस आॅनलाइन नहीं जमा करा पाए। शुक्रवार देर रात विश्वविद्यालय की ओर से जारी कटआॅफ के बाद सुबह से ही प्रवेश लेने के इच्छुक छात्र और उनके अभिभावक अपने पसंद के कॉलेजों में पहुंचने लगे थे लेकिन दाखिला पोर्टल में तकनीकी खराबी की वजह से कोई भी छात्र अपना फॉर्म का प्रिंटआउट नहीं ले पा रहा था। जैसे-तैसे सुबह 10:00 बजे के आसपास जब यह समस्या ठीक हुई तो इसके बाद कॉलेज अपने डेशबोर्ड तक नहीं पहुंच पा रहे थे, जिसकी वजह उन्हें विद्यार्थियों की सीट को लॉक करने में परेशानी आ रही थी। दोपहर बाद जब इस समस्या का समाधान हुआ तो विद्यार्थियों के पास तक फीस भुगतान का लिंक नहीं पहुंचा।

कई विद्यार्थियों ने बताया कि उनकी सीट लॉक हो चुकी है लेकिन पोर्टल पर उनके अकाउंट में फीस भुगतान का लिंक ही नहीं दिख रहा है। ऐसे में बड़ी संख्या में छात्र शनिवार रात तक अपनी फीस का भुगतान नहीं कर पाए थे। सुबह के कॉलेजों में छात्रों को दोपहर 1:30 बजे तक प्रवेश लेना था लेकिन व्यवस्था सही नहीं हो पाने की वजह से शाम तक कॉलेजों में छात्रों के दस्तावेज सत्यापन करने का काम चलता रहा। बाद में जब फीस का भुगतान नहीं हुआ तो कुछ अभिभावक शिकायत लेकर कॉलेजों तक भी पहुंचे।कॉलेजों का कहना है कि दस्तावेज के सत्यापन का काम हमने कर लिया है।

वास्तविक अंकपत्र नहीं होने से कई राज्यों के छात्र परेशान
कॉलेजों में प्रवेश के लिए विद्यार्थियों को बारहवीं कक्षा का वास्तविक अंकपत्र लेकर जाना था लेकिन कुछ राज्य बोर्डों ने अभी तक वास्तविक अंकपत्र जारी नहीं किए हैं। ऐसे में इन राज्यों, जिनमें हरियाणा और तमिलनाडु भी शामिल हैं, के छात्रों को परेशानी का सामना करना पड़ा। ऐसे में कुछ कॉलेजों ने छात्रों से मंगलवार को आकर बात करने की सलाह दी है।
कर्नाटक के छात्रों को ‘बेसिक मैथ्स’ से हुई समस्या

कर्नाटक से डीयू में प्रवेश के लिए आए छात्रों को एक अलग तरह की समस्या का सामना करना पड़ा। दरअसल, कर्नाटक बोर्ड ने गणित विषय का नाम ‘बेसिक मैथ्स’ रखा हुआ है और डीयू में इसे माना नहीं जा रहा है। आरजू अहमद के 12वीं में 98 फीसद अंक हैं लेकिन उन्हें श्रीराम कॉलेज आॅफ कॉमर्स से इसलिए वापस भेज दिया क्योंकि उनके राज्य बोर्ड में जो गणित है उसका नाम बेसिक मैथ्स है।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 केजरीवाल की इफ्तार पार्टी में नहीं आए उप-राष्ट्रपति और एलजी समेत कई VIPs, कुमार विश्वास ने भी काटी कन्नी
2 लाभ के पद वाले मामले में आप के 20 विधायकों को राहत नहीं, चुनाव आयोग ने खारिज की याचिका
3 ट्रेन में कत्ल: बीफ को लेकर तंज मारा, टोपी फेंकी, दाढ़ी खींची, पीटा, फिर चाकू मारकर ट्रेन से फेंक दिया
ये पढ़ा क्या?
X