ताज़ा खबर
 

पूर्वी दिल्ली दंगा केसः ताहिर हुसैन के खिलाफ चार्जशीट में आरोप- जनवरी में रची गई साजिश, शाहीन बाग में JNU के उमर खालिद ने दिए थे ‘तैयार रहने’ के संकेत

दिल्ली के चांद बाग इलाके में आप के निलंबित पार्षद के घर के बाहर 24 फरवरी को दोपहर करीब सवा दो बजे हुए दंगों में हुसैन की कथित भूमिका को लेकर गिरफ्तार किया गया था।

tahir hussainआम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन।

आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने चार्जशीट फाइल कर दी है। इसमें पुलिस ने आरोप लगाया कि आठ जनवरी, यानी पूर्वोत्तर दिल्ली में हुए दंगों से एक महीने से अधिक समय पहले, हुसैन ने जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद और यूनाइटेड अगेंस्ट हेट के खालिस सैफी से सीएए विरोधी शाहीन बाग प्रदर्शन स्थल पर मुलाकात की। इस दौरान उमर खालिद ने उनसे कहा कि ‘ट्रंप की यात्रा के दौरान कुछ बड़ा/दंगों के लिए तैयार रहें।’ इस काम में वो और पीएफआई सदस्य उनकी (हुसैन) की आर्थिक मदद करेंगे। चार्जशीट मंगलवार (2 जून, 2020) को दिल्ली के कड़कड़डूमा कोर्ट में फाइल की गई है।

चार्जशीट के मुताबिक ये जानकारी हुसैन से पुलिस की पूछताछ और कॉल डिटेल रिकॉर्ड पर आधारित है। चार्जशीट में आरोप लगाया कि ‘हुसैन ने दावा किया कि सैफी ने उन्हें तैयारियों के लिए पैसे दिए। उन्होंने उनके स्वामित्व वाली कंपनियों के खाते से जनवरी के दूसरे सप्ताह में 1.10 करोड़ रुपए फर्जी कंपनियों को ट्रांसफर किए। इसके बाद उन्होंने लेनदेन की एक चेन के जरिए नकद राशि प्राप्त की और तैयारी शुरू कर दी। निलंबित पार्षद ने सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों के बीच नकदी भी बांटी। उनके सह-अभियुक्त और इलाके में अन्य लोगों ने अपने समर्थकों से कहा कि वो बड़े एक्शन के लिए तैयार रहें।’

Uttar Pradesh, Uttarakhand Coronavirus LIVE Updates

दिल्ली के चांद बाग इलाके में आप के निलंबित पार्षद के घर के बाहर 24 फरवरी को दोपहर करीब सवा दो बजे हुए दंगों में हुसैन की कथित भूमिका को लेकर गिरफ्तार किया गया था। इस सिलसिले में खजूरी खास थाने में हुसैन सहित 15 लोगों के खिलाफ दंगे का मामला दर्ज किया गया था। आरोपपत्र के मुताबिक हुसैन ने पूछताछ में दंगों में संलिप्त होने की बात स्वीकार की और यह भी कहा कि इलाके में उनके घर के पास जब दंगा भड़का तो वह अपनी घर के छत पर मौजूद थे।

वहीं ताहिर के वकील ने आरोप लगाया कि पुलिस ने आप के निलंबित पार्षद के जवाब को ‘तोड़-मरोड़’ कर पेश किया है। वकील जावेद अली ने दावा किया कि उनके राजनीतिक विरोधियों ने षड्यंत्र रचकर उन्हें फंसाया है। उन्होंने कहा कि हुसैन यहां आरोपी नहीं पीड़ित हैं। इसके अलावा हुसैन ने भी खुद पर आरोपों का खंडन किया है और दावा किया है कि हिंसक प्रदर्शनकारियों द्वारा उनके घर पर कब्जा कर लिया गया था, जिससे वह भागने के लिए मजबूर हो गए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पूर्वी दिल्ली दंगा केस: कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट फाइल, पूर्व AAP नेता ताहिर हुसैन मास्टरमाइंड, 14 अन्य भी आरोपी