ताज़ा खबर
 

मुंबई की तर्ज पर खुद को बदलेगी दिल्ली पुलिस

बड़े से बड़े मामले को सुलझाने और अपनी अलग कार्यशैली के लिए जानी जाने वाली मुंबई पुलिस की तरह ही दिल्ली पुलिस की कार्यशैली भी विकसित की जाए।

Author नई दिल्ली | February 28, 2017 3:33 AM
वीआईपी सुरक्षा में जुटा दिल्ली पुलिस का एक जवान (फाइल फोटो)

दिल्ली पुलिस ने मुंबई पुलिस के नक्शेकदम पर चलते हुए स्मार्ट बनने की कवायद शुरू कर दी है। इस दिशा में सबसे पहले विभाग ने ड्यूटी चार्ट तैयार करने की योजना बनाई है, जिसमें पुलिसवालों को छह घंटे की ड्यूटी के साथ साप्ताहिक छुट्टी देने सहित अन्य योजनाओं पर विचार करने का फैसला किया गया है।  इसके साथ ही दिल्ली पुलिस ने इंडिया गेट के अमर जवान ज्योति की तर्ज पर मुंबई पुलिस मुख्यालय की तरह दिल्ली पुलिस के नए मुख्यालय में ‘अमर पुलिस ज्योति’ बनाने पर भी संबंधित मंत्रालय से चर्चा शुरू कर दी है। इस पूरी योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक के निर्देश पर विशेष आयुक्त, सामान्य प्रशासन टीएन मोहन की अध्यक्षता में पुलिस मुख्यालय में इसी हफ्ते एक बैठक हुई है। बताया जा रहा है कि इन तमाम फैसलों के पीछे नए पुलिस आयुक्त की मंशा दिल्ली पुलिस को देश की सबसे स्मार्ट पुलिस की गिनती में शुमार करना है। पुलिस मुख्यालय के सूत्रों के मुताबिक, इन तमाम योजनाओं पर अंतिम फैसला केंद्रीय गृह मंत्रालय को लेना है। मंत्रालय से मंजूरी मिलते ही दिल्ली पुलिस अपनी योजनाओं को अमलीजामा पहनाने की प्रक्रिया शुरू कर देगी।

इन सभी फैसलों के पीछे पुलिस मुख्यालय का मानना है कि देश की स्मार्ट पुलिस की श्रेणी में मुंंबई पुलिस की गिनती होती है। बड़े से बड़े मामले को सुलझाने और अपनी अलग कार्यशैली के लिए जानी जाने वाली मुंबई पुलिस की तरह ही दिल्ली पुलिस की कार्यशैली भी विकसित की जाए। इसके लिए सबसे पहले तो पुलिस वालों की ड्यूटी शिफ्ट में की जाए। ट्रैफिक सिस्टम को चार शिफ्टों में बांटा जाए। हर पुलिस वाले की ड्यूटी छह घंटे तय हो। रात 12 से सुबह छह बजे के बीच रिजर्व स्टाफ को ड्यूटी पर लगाया जाए। इसके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय के पास पुलिस बलों की संख्या बढ़ाने का प्रस्ताव पहले ही भेजा जा चुका है। उपायुक्त स्थापना ने बैठक में बताया कि गृह मंत्रालय भी पुलिस की संख्या बढ़ाने को उच्च प्राथमिकता के आधार पर ले रहा है और बहुत जल्द पुलिस बल में नई नियुक्त के आदेश जारी किए जाएंगे। संख्या बल बढ़ाने की अनुमति मिलते ही सबसे पहले ट्रैफिक यूनिट में छह घंटे की शिफ्ट ड्यूटी को कार्यरूप दिया जाएगा। इस बाबत संयुक्त आयुक्त ट्रैफिक, ट्रैफिक के सभी उपायुक्तों और उपायुक्त स्थापना को पहले ही जानकारी दे दी गई है। मुख्यालय सूत्रों के मुताबिक , इस बैठक में पुलिसवालों की साप्ताहिक छुट्टी पर गंभीरता से विचार किया गया। रात-दिन ड्यूटी करने के बाद उनके स्वास्थ्य की समस्या को देखते हुए यह तय किया गया है कि उनके ऊपर काम का बोझ ज्यादा रहता है। इसलिए साप्ताहिक छुट्टी अनिवार्य है। हां जब कोई सरकारी काम होगा और लगेगा कि इसमें बिना साप्ताहिक छुट्टी लिए भी ड्यूटी करनी पड़ेगी तो फिर छुट्टी रद्द कर दी जाएगी।

दिल्ली पुलिस ने मुंबई पुलिस से सीख लेते हुए कुछ और बड़े फैसले लेकर उन्हें गृह मंत्रालय के पास संस्तुति के लिए भेजा है। इसमें इंडिया गेट के अमर जवान ज्योति की तरह ही ‘अमर पुलिस ज्योति’ बनाने की योजना बनाई है। बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि इसे कहां बनाया जाए ताकि बल के लिए यह हमेशा प्रेरणा बना रहे। दिल्ली पुलिस के नए मुख्यालय में इस बाबत जगह देखी जाएगी और फिर इस फैसले को कार्यरूप देने के लिए गृह मंत्रालय भेजा जाएगा। मुंबई पुलिस मुख्यालय में इसी तरह का अमर पुलिस ज्योति बना हुआ है।

 

अखिलेश यादव ने कहा, "मायावती बीजेपी के साथ कभी भी मना सकती हैं रक्षा बंधन"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App