'सोमनाथ ने तीन दिन में 6 अलग-अलग ठिकाने बदले' - Jansatta
ताज़ा खबर
 

‘सोमनाथ ने तीन दिन में 6 अलग-अलग ठिकाने बदले’

घरेलू हिंसा मामले के आरोपी व फरार चल रहे पूर्व कानून मंत्री व आप विधायक सोमनाथ भारती ने तीन दिनों में 10 से ज्यादा मोबाइल फोन नंबर प्रयोग किए हैं..

Author नई दिल्ली | September 26, 2015 10:29 AM
अपनी पत्नी द्वारा दर्ज घरेलू हिंसा और हत्या के प्रयास के मामले में लगातार तीसरे दिन गिरफ्तारी से बच रहे आप विधायक सोमनाथ भारती के बर्ताव को दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को पेशेवर अपराधी सरीखा बताया।

घरेलू हिंसा मामले के आरोपी व फरार चल रहे पूर्व कानून मंत्री व आप विधायक सोमनाथ भारती ने तीन दिनों में 10 से ज्यादा मोबाइल फोन नंबर प्रयोग किए हैं। इतना ही नहीं सूत्रों का कहना है कि भारती ने 6 अलग-अलग ठिकाने बदले हैं जो दिल्ली, उत्तर प्रदेश व हरियाणा के बीच की हैं। दिल्ली हाई कोर्ट की ओर से उनकी अग्रिम जमानत अर्जी खारिज किए जाने के बाद उन पर गिरफ्तारी के बादल मंडरा रहे हैं।

उधर, सोमनाथ की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली पुलिस शुक्रवार को उनके घर पहुंची। पुलिस को यहां सोमनाथ तो नहीं मिले, लेकिन उनका कुत्ता डॉन मिल गया। पुलिस कुत्ते को लेकर लौट गई। कुछ दिन पहले खुद सोमनाथ भारती इस कुत्ते को लेकर दिल्ली पुलिस के पास पहुंचे थे और उन्होंने कुत्ते को गिरफ्तार कर लेने की बात कही थी। घरेलू हिंसा के मामले में सोमनाथ की पत्नी लिपिका मित्रा ने सोमनाथ पर उन्हें कुत्ते से कटवाने का आरोप भी लगाया है। बता दें कि सोमनाथ के कुत्ते के बीमार होने की खबर सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस भारती के ऑफिस पहुंची और कुत्ते को लेकर नीति बाग स्थित डॉक्टर के क्लीनिक ले गई।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक वह सर्विलांस के जरिए लगातार गिरफ्तारी की जुगत में है। हालांकि उनका मोबाइल बंद आ रहा है। पुलिस का यह भी दावा है कि सोमनाथ को छुपाने में दो से ज्यादा लोग उनकी मदद कर रहे हैं। पुलिस यह पहले ही कह चुकी है कि सोमनाथ भारती किसी पेशेवर अपराधी की तरह पेश आ रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने सोमनाथ को छुपाने में दो से ज्यादा लोगों की मदद करने की खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ गिरफ्तारी से बचने के लिए कम से कम दो लोगों का सहयोग ले रहे हैं जिनका उत्तरप्रदेश और हरियाणा में लंबा आपराधिक रिकॉर्ड रहा है। संयुक्त पुलिस आयुक्त (दक्षिण पश्चिम) दीपेंद्र पाठक ने कहा कि भारती पेशेवर अपराधी की तरह व्यवहार कर रहे हैं और उनका व्यवहार दिखाता है कि या तो वह खुद ऐसा सोचते हैं या फिर ऐसे लोगों का सहयोग ले रहे हैं जिनकी अपराध में विशेषज्ञता है।

पाठक ने कहा कि हमारे पास सूचना है कि कम से कम दो व्यक्ति जिनका लंबा आपराधिक रिकॉर्ड रहा है, विधायक का सहयोग पहले ही दिन से कर रहे हैं जब से वह गिरफ्तारी से बच रहे हैं। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि विधायक ने पिछले दो दिनों में एक दर्जन से ज्यादा ठिकाने बदले हैं और लगभग इतने ही बार मोबाइल फोन बदला है और इस दौरान वह करीब आधा दर्जन वाहन बदल चुके हैं। उन्होंने कहा कि भारती ने पहचान बदलने के लिए विभिन्न तरह की पोशाकें भी पहनीं। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक अंतिम बार आगरा के एक गांव के पास उनका पता चला और अब वह उत्तरप्रदेश छोड़ चुके हैं और हरियाणा चले गए हैं। कई पुलिस टीम को उनकी तलाश में पड़ोस के राज्यों में भेजा गया है।

दीपेंद्र पाठक ने कहा कि सोमनाथ भारती के खिलाफ गंभीर आरोप हैं और जो कोई भी उन्हें आश्रय, साजो सामान व अन्य संसाधन मुहैया करा रहा है उस पर भी कानूनी कार्रवाई होगी। पाठक ने कहा कि पुलिस ने ‘ठोस रणनीति’ बनाई है और दिल्ली पुलिस पूर्व कानून मंत्री को कठघरे में लाने को प्रतिबद्ध है। बहरहाल पुलिस अधिकारियों की एक टीम शुक्रवार को भारती के आवास पर गई और उनके कुत्ते ‘डॉन’ को दक्षिण दिल्ली के जानवरों के एक क्लीनिक में ले गई जहां उसकी जांच की गई। कुत्ते को दिल की बीमारी है और कुछ समय से उसका उपचार नहीं चल रहा है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जब हमें पता चला कि विधायक के लापता होने के बाद से कुत्ते का इलाज नहीं हुआ है तो हमने स्थानीय जिले की पुलिस को वहां भेजा और भारती की अनुपस्थिति में कुत्ते का इलाज कराने को कहा।

सनद रहे कि भारती की पत्नी लिपिका मित्रा ने बीते दस जून को दिल्ली महिला आयोग में अपने पति के खिलाफ घरेलू हिंसा की शिकायत दर्ज कराई थी और कहा था कि भारती 2010 में उनकी शादी के बाद से उसके साथ मारपीट करते रहे हैं। लिपिका ने इसे लेकर पुलिस में भी शिकायत की थी। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने भारती के खिलाफ आइपीसी की धारा 307 (हत्या की कोशिश), 498 ए (पत्नी के प्रति क्रूरता), 324 (खतरनाक हथियार से जानबूझकर चोट पहुंचाना), 406 (आपराधिक विश्वासघात), 313 व 511 (महिला की रजामंदी के बिना गर्भपात कराने की कोशिश करना), 420 (धोखाधड़ी) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज किया था।

भारती के साथ आतंकवादी की तरह व्यवहार : सिसोदिया

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पूरे प्रकरण पर आश्चर्य जताते हुए कहा कि भारती के साथ आतंकवादी की तरह व्यवहार किया जा रहा है। सिसोदिया ने कहा कि पुलिस जिस तरीके से भारती को खोज रही है मानो वह आतंकवादी हों और जिस तरीके से भारती गिरफ्तारी से बच रहे हैं वह भी आश्चर्यजनक है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App