ताज़ा खबर
 

दिल्ली पुलिस और सीआरपीएफ के जवान ने की खुदकुशी, अपनी सेवा पिस्तौल से खुद को मार ली गोली

मौके से सुसाइड नोट नहीं मिला है लेकिन पुलिस अधिकारी का कहना है कि लंबी बीमारी से तंग आकर उसने यह कदम उठाया है। अमित खोखर मूलरूप से बागपत के हलपुर गांव का रहने वाला था।

Author नई दिल्ली | Published on: October 5, 2017 4:50 AM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

दिल्ली के दरियागंज थाने में तैनात दिल्ली पुलिस के एक जवान और मंडोली जेल में तैनात सीआरपीएफ के जवान ने अलग-अलग कारणों से सर्विस हथियार से मारकर खुदकुशी कर ली। दरियागंज के मामले में जहां बीमारी कारण के रूप में वहीं मंडोली मामले में मनपसंद लड़की से शादी नहीं होने से परेशान जवान के जान देने की बात सामने आई है। दरियागंज थाने के बैरक में दिल्ली पुलिस के सिपाही ने बुधवार शाम सरकारी पिस्तौल से कनपटी में गोली मारकर खुदकशी कर ली। सिपाही की पहचान अमित खोखर के रूप में हुई है। मौके से सुसाइड नोट नहीं मिला है लेकिन पुलिस अधिकारी का कहना है कि लंबी बीमारी से तंग आकर उसने यह कदम उठाया है। अमित खोखर मूलरूप से बागपत के हलपुर गांव का रहने वाला था।

वह 2009 में दिल्ली पुलिस में बतौर सिपाही भर्ती हुआ था। डेढ़ साल से उसकी तैनाती दरियागंज थाने में थी। बताया जा रहा है कि हेपेटाइटिस बी की बीमारी की वजह से उसका गुर्दा खराब हो गया था। बीमारी के कारण वह पिछले एक साल से अक्सर मेडिकल लीव पर ही रहता था। 20 अगस्त को उसने ड्यूटी ज्वाइन की थी। बुधवार शाम अमित की ड्यूटी थी। उसे चर्च के पास तैनात किया जाना था। शाम पांच बजे वह अपनी बैरक में आ गया था। बैरक में आते ही उसने सर्विस पिस्तौल से कनपटी में सटाकर गोली मार ली। गोलीबारी की आवाज सुनकर थाने में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी तुरंत पीसीआर को दी गई। घायल सिपाही को इलाज के लिए एलएनजेपी अस्पताल ले जाया गया जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना उसके परिजनों को दे दी गई है।

 

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 छोटे रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा की बड़ी खामियां
2 चुनौतियों की चिंता में फंसी ट्रैफिक पुलिस
3 ‘बच्चों को दाखिला देने में असमर्थ सरकार उनकी फीस अदा करे’