scorecardresearch

दिल्ली-एनसीआर : कोरोना के इलाज करा रहे मरीज छह दिन में नौ फीसद बढ़े

एक बार फिर कोरोना विषाणु संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखी जा रही है।

Corona Vaccine, Modi Government
प्रतीकात्मक तस्वीर(फोटो सोर्स: फाइल/PTI)।

देश में 13 अप्रैल के बाद से कोरोना विषाणु संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी देखी जा रही है। 13 अप्रैल को इलाज करा रहे मरीजों के संख्या 10,870 थी जो मंगलवार तक बढ़कर 11,860 हो गई। यानी छह दिन में इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 9.10 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। हालांकि यह वृद्धि बहुत ही मामूली है लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि हम इस संकेत को समझें और कोरोना से बचाव के लिए उपयोग किए जाने वाले उपायों को अपनाएं। इनमें मास्क और उचित दूरी के नियम सबसे महत्त्वपूर्ण हैं।

सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में स्कूल शुरू हो गए हैं। ऐसे में विद्यार्थियों के संक्रमण के मामलों में भी वृद्धि देखी गई है। चिकित्सकों का कहना है कि बच्चे दो साल बाद कक्षाओं में पहुंचे हैं और इनमें से काफी का टीकाकरण भी नहीं हुआ है, इसलिए संक्रमण के मामले आ रहे हैं। हालांकि चिकित्सकों का कहना है कि घबराने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि बच्चों पर इसका असर बहुत कम है। भारतीय विज्ञान संस्थान (आइआइएससी) बंगलुरू के विषाणु विज्ञानी शशांक त्रिपाठी का कहना है कि कोरोना विषाणु अभी भी हमारे बीच है। इसलिए हमें अभी अपने सुरक्षा उपायों को अपनाना जारी रखना होगा। उन्होंने कहा कि सबसे पहले कोशिश करें कि भीड़ में जाएं ही नहीं और जाना जरूरी हो तो मास्क अवश्य लगाएं। इसके अलावा जहां तक संभव हो उचित दूरी के नियम का पालन करें।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से आठ अप्रैल को ही दिल्ली, हरियाणा, केरल, मिजोरम और महाराष्ट्र की सरकारों को राज्यों में संक्रमण दर में बढ़ोतरी के संकेत देते हुए आगाह किया था। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इन राज्यों अधिकारियों के लिखे पत्र में कहा था कि कोरोना के नए मामलों के स्थानों पर कड़ी निगरानी की जाए। ऐसे स्थानों पर जांच को और बढ़ाया जाए। इसके अलावा संक्रमितों के नमूनों को नियम के मुताबिक जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजने और राज्य में टीकाकरण के लिए योग्य आबादी का पूर्ण टीकाकरण कराने को कहा गया था।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार देश में एक दिन में कोरोना के 1,247 मामले आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 4,30,45,527 हो गई। उत्तर प्रदेश में संक्रमण से एक व्यक्ति की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 5,21,966 हो गई है। चौबीस घंटे में इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 318 की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.76 फीसद है। आंकड़ों के अनुसार संक्रमण की दैनिक दर 0.31 फीसद और साप्ताहिक दर 0.34 फीसद है। देश में अभी तक कुल 4,25,11,701 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोरोना से मृत्यु दर 1.21 फीसद है। वहीं, राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोरोनारोधी टीकों की 186.72 करोड़ से अधिक खुराक लगाई जा चुकी हैं।

पढें नई दिल्ली (Newdelhi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.