ताज़ा खबर
 

दिल्ली: नगर निगम कर्मचारियों की हड़ताल में फूट

अपने बकाया वेतन, एरियर व अन्य मांगों को लेकर निगमकर्मियों की हड़ताल दो खेमों में बंट गई है।

Author नई दिल्ली | January 12, 2017 2:43 AM
नगरपालिका में सफाईकर्मी बनने के लिए हिंदी पढ़ने-लिखने में सक्षम होना योग्यता है। (PTI Photo by Vijay Verma)

अपने बकाया वेतन, एरियर व अन्य मांगों को लेकर निगमकर्मियों की हड़ताल दो खेमों में बंट गई है। एक खेमा जहां बुधवार को सातवें दिन भी हड़ताल जारी रखने की घोषणा कर रहा है वहीं कुछ अन्य सफाई कर्मचारी संगठनों के नेताओं ने निगम अधिकारी और मेयर से मिलकर काम पर जाने की बात कही।  पूर्वी दिल्ली का असर अब उत्तरी दिल्ली नगर निगम पर भी पड़ने लगा है। वहां भी कुछ कर्मचारी हड़ताल करने की बात कर रहे हैं तो कुछ दो महीने का वेतन मिलने के बाद काम पर लौटने पर राजी हो गए। इस बीच निगम अधिकारी और मेयर ने कहा कि बहुत जल्द इनकी समस्याओं का समाधान कर उनकी मांगों को प्रक्रिया के तहत मान लिया जाएगा। निगम प्रवक्ता का कहना है कि वेतन दिया जा रहा है और कर्मचारी काम पर लौट भी रहे हैं।

पूर्वी दिल्ली में निगम स्वच्छता कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष संजय गहलौत के मुताबिक, बुधवार सुबह से भारी संख्या में निगमकर्मी झिलमिल स्थित आरआर डिपो पर इकठ्ठा होकर दिल्ली विधानसभा स्पीकर के विवेक विहार स्थित कार्यालय की ओर गए। प्रदर्शनकारियों ने जगह-जगह हर चौराहों पर चक्का जाम भी किया। इस बीच भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती के और स्थानीय लोगों के हस्तक्षेप के बाद ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू रूप से चलने दिया गया। संजय गहलोत ने कहा कि रोजाना हम निगम सरकार और दिल्ली सरकार से पूर्वी दिल्ली नगर निगम के सभी कर्मियों की समस्या का स्थाई समाधान करने की बात कर रहे हैं लेकिन बड़े दुख की बात है कि कोई भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहा, जिसका खमियाजा बेकसूर जनता भुगत रही है। उन्होंने निगम और दिल्ली सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द समाधान नहीं हुआ तो गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे।

इसी बीच एक अन्य यूनियन के अपनी हड़ताल समाप्ति की घोषणा पर भी संजय गहलोत ने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। हमारा निगम स्वच्छता कमर्चारी यूनियन भारतीय मजदूर संघ से संबद्ध है और इसमें कई हजार कर्मचारी हमारे साथ हैं। बुधवार से पूर्वी दिल्ली नगर निगम स्थित स्वामी दयानंद अस्पताल के निगम म्युनिसिपल कारपोरेशन डॉक्टर्स एसोसिएशन पूर्वी दिल्ली ब्रांच ने भी अपना समर्थन हमें दिया है जो गुरुवार से हमारे साथ हड़ताल में शामिल होंगे। इनमें डॉक्टर पीके दत्ता, डॉक्टर सुनील गोडीवाल, डॉक्टर आशीष, डॉक्टर गौरव शर्मा भी शामिल हैं। संजय गहलोत ने कहा कि रोजाना पूर्वी दिल्ली निगम आयुक्त और मेयर पत्रकारों के सामने हड़ताल को नाकाम करने के लिए उलटे-सीधे बयानबाजी करते हैं। इसलिए गुरुवार को हजारों की संख्या में निगमकर्मी मुख्यालय का पूरा घेराव करेंगे और निगम आयुक्त, मेयर, स्थाई समिति के अध्यक्ष का पुतला दहन किया जाएगा। गहलोत ने कहा कि जो भी आंदोलन को नाकाम करने की कोशिश करेगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।

 

मनीष सिसोदिया ने पंजाब के वोटरों से कहा- “अरविंद केजरीवाल को अपना मुख्यमंत्री मानें”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X