ताज़ा खबर
 

दिल्ली नगर निगम चुनाव : नामांकन के पहले दिन दिखी गहमागहमी

इसी बीच आम आदमी पार्टी के कई नेता भी अपनी शिकायत लेकर पहुंचे कि कई जानकारियां ऑनलाइन नहीं मिल रही हैं। सूचना का भारी अभाव है।

Author नई दिल्ली | March 28, 2017 11:25 AM
इस साल दिल्ली नगर निगम चुनाव होने हैं। (प्रतीकात्मक चित्र)

दिल्ली नगर निगम चुनाव के नामांकन के पहले दिन दिल्ली चुनाव आयोग में फोन की लगातार बज रही घंटियां कॉल सेंटर का नजारा पेश कर रही थीं। चुनाव आयोग में हलचल तेज है और इसी के साथ कई नेता भी अपनी शिकायत लेकर यहां पहुंच रहे हैं। नेताओं की शिकायतें बताती हैं कि तैयारियों में अभी भी कमी है। सभी जानकारी ऑनलाइन मिल जाएगी, यह कह कर उनको चुनाव नियमावली पुस्तिका खरीदने के सुझाव भी दिए जा रहे थे, जोकि यहीं 100 रुपए की पर्ची कटाकर ली जा सकती है। इसी बीच आम आदमी पार्टी के कई नेता भी अपनी शिकायत लेकर पहुंचे कि कई जानकारियां ऑनलाइन नहीं मिल रही हैं। सूचना का भारी अभाव है। वे बीच-बीच में आकर सवाल पूछते व समाधान पाने की कोशिश करते दिखे। आयोग के अधीक्षक कुलदीप सिंह ने बताया कि चुनाव की लगभग सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।

इस बार कई नए प्रावधान किए गए हैं। ईवीएम मशीन में इस बार उम्मीदवारों के फोटो भी होंगे। नाखून से लेकर कम से कम डेढ़ इंच की लंबाई तक उंगली पर स्याही लगाने की अनिवार्यता होगी। इस बार 14 हजार मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें एक हजार नए मतदान केंद्र होंगे। इस बार चुनाव के लिए 50 हजार ईवीएम मशीनों का इंतजाम किया गया है। इनमें 20 हजार कंट्रोल यूनिट व 30 हजार बैलट यूनिट मंगाए गए हैं। इनमें बैलट यूनिट वह मशीन है जिसमें बैलट नंबर व निशान दिया रहता है। यह अधिक इसलिए मंगाई गई है कि जिस वार्ड में 15 से अधिक उम्मीदवार हुए उनमें एक नहीं दो-दो मशीनें एक बूथ पर दी जानी हैं। इनको दोहरे व तिहरे स्तर की जांच के बाद नागालैंड पुलिस की निगरानी में आयोग के दफ्तर व जीजाबाई आइटीआइ में रखा गया है।

उन्होंने यह भी बताया कि चुनाव के लिए इस बार 17 हजार रीजनल पोलिंग पार्टी बनाई गई है। एक पोलिंग पार्टी में पांच लोग शामिल होते हैं। इसके अलावा 15 हजार सेक्टर आॅफिसर नियुक्त किए गए हैं। नामांकन पूरा होने के बाद इन लोगों को चुनाव प्रक्रिया का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इनके अलावा वार्ड स्तर पर फोटोग्राफर नियुक्त किए जा रहे हैं जो चुनाव के दिन बूथ पर पोस्टरबाजी वगैरह रोकने के लिए होंगे। अन्य अनियमितताएं रोकने के लिए रिर्टनिंग ऑफीसर के स्तर पर वीडियोग्राफ्रर नियुक्त किए जा रहे हैं। यह प्रक्रिया जारी है। जल बोर्ड को पानी की बोतलों की आपूर्ति के आदेश भी दिए जा चुके हैं।

केजरीवाल ने विधानसभा चुनावों में किए वादों के पूरा होने का किया दावा; कहा- "दिल्ली को लंदन जैसा बनाएंगे"

लालबत्‍ती: सुविधा या वीआईपी कल्‍चर? जानिए विभिन्न राज्यों में क्या हैं नियम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App