ताज़ा खबर
 

दिल्ली: नगर निगम की सभी सीटों पर लड़ेगी जदयू

नगर निगम चुनावों में इस बार कांग्रेस, भाजपा, आप और स्वराज इंडिया के बाद जनता दल (एकी) ने सभी 272 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया।

Author नई दिल्ली | Published on: February 27, 2017 1:59 AM
Nitish Kumar, ashok kumar chaudhary, Nitish Kumar Hitting on Congress, Prime Minister Program, Patna University, Narendra Modi, Nitish Kumar Attack on ashok kumar chaudhary, ashok kumar chaudhary and Nitish Kumar, Nitish Kumar Statement, National News, Jansattaबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।(फाइल फोटो)

दिल्ली के तीनों नगर निगम के चुनावों में इस बार कांग्रेस, भाजपा, आप और स्वराज इंडिया के बाद जनता दल (एकी) ने सभी 272 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया। बिहार के मुख्यमंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार भी दो चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। उधर इससे पहले चुनावी माहौल को मुकाबले में लाने और निगम में सत्तारूढ़ भाजपा को शिकस्त देने के लिए आप ने अपने बड़े प्रभारियों और कार्यकर्ताओं को भी उतारने का मन बना लिया है। कांग्रेस और भाजपा ने अपने हारे विधायक और निगम चुनाव नहीं लड़ने का मन बना चुके वरिष्ठ पार्षदों को तो आम आदमी पार्टी ने पूर्वी दिल्ली में ही रीचा पांडेय मिश्रा जैसे आला नेताओं को इसी कड़ी में उम्मीदवार बनाने का मन बनाया है।

जनता दल (एकी) के राष्ट्रीय महासचिव जावेद रजा ने बताया कि दिल्ली की दुर्दशा, और दिल्ली से बाहर के लोगों का यहां के प्रशासनिक ढांचे को देखते हुए उनकी हालत किस तरह सुधारी जाए इसी बाबत यहां चुनाव लड़ने का फैसला किया गया है। दिल्ली के माहौल में पार्टी की सक्रियता बढ़े और पीड़ित लोग अपने हालात सुधारने की दिशा में सोचें इस बाबत बिहार के मुख्यमंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार दो बड़ी रैलियां करेंगे। इसके अलावा पार्टी के अन्य सभी नेताओं और दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष राज सिंह मान की अगुआई में चुनाव संचालन कराने के लिए स्क्रीनिंग कमेटी भी बनाई जा रही है। रजा ने बताया कि दिल्ली की हालत बद से बदतर होती जा रही है। निगम के अंदर जो मूलभूत चीजें और विभाग हैं उन सभी ने भाजपा के कारण काम नहीं करने का मन बना लिया है। निगम स्कूल, सिविक समस्याएं, पीडीएस व्यवस्था जो निगम के हाथों जनता तक पहुंचाई जा रही है आदि अन्य छोटी-से बड़ी जिसमें राशन कार्ड नहीं बन पाने के कारण वोटर लिस्ट में नाम दर्ज नहीं होने और इसी प्रकार की अन्य बुनियादी चीजों से वंचित रहने वाले प्रवासियों से लेकर दिल्ली के लोगों तक के लिए पार्टी ने इस चुनाव में उतरने का फैसला किया है। पार्टी का एजंडा सीधे तौर पर बिहार की भांति बुनियादी चीजें मुहैया कराने का है। उन्होंने बताया कि टिकट उन्हीं को मिलेगा जिनकी स्थानीय स्तर पर अच्छी पैठ, साफ-सुथरी छवि होगी। आवेदन के लिए दिल्ली के प्रभारी बनाए गए संजय झा ने छंटनी शुरू कर दी है।

रविवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम में आम आदमी पार्टी के जिला स्तर के कई कार्यकर्ता, खासकर पूर्व दिल्ली से जुड़े कार्यकर्ता, जदयू में शामिल हुए। इनका आरोप था कि आप ने निगम चुनावों के लिए टिकट बंटवारे मेंं पूर्वांचलियों की अनदेखी की। झा ने कहा कि जद (एकी) का लक्ष्य आप के पूर्वांचलियों के वोटबैंक में व्याप्त ‘असंतोष’ को अपने समर्थन में खींचना है। उन्होंने कहा कि पिछले दो सालों के दौरान हर संभव मदद देने के बावजूद अरविंद केजरीवाल सरकार ने यहां पूर्वांचल के लोगों की ‘उपेक्षा’ की। नीतीश कुमार होली के बाद दो रैलियां करेंगे। एक उत्तरी दिल्ली और दूसरी दक्षिणी दिल्ली में। एक हफ्ते में हमारे उम्मीदवारों की पहली सूची आ जाएगी। भाजपा का सांसद मनोज तिवारी को पार्टी की दिल्ली इकाई का अध्यक्ष बनाने का फैसला भी पूर्वांचल के लोगों को लुभाने के एक प्रयास के तौर पर देखा गया। पूर्वांचली समुदाय में पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग आते हैं।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नाथूराम गोडसे की कार संभाल रहे जावेद रहमान, निलामी में खरीदी थी
2 सीनियर लड़कियों पर 7 साल की स्टूडेंट को बेहोश कर छेड़छाड़ का आरोप, खाली क्लास रूम में कपड़े उतार करती थीं गंदी हरकतें
3 पार्टी के बहाने डीयू स्टूडेंट के साथ दोस्तों ने किया गैंगरेप, कार में लिफ्ट देने वाले ने भी बनाया हवस का शिकार