ताज़ा खबर
 

दिल्ली मेट्रो: गिरफ्तार किए गए पॉकेटमारों में 91% महिलाएं, हर रोज़ करीब 26 लाख यात्री करते हैं सफर

पिछले वर्ष गिरफ्तार पॉकेटमारों में 93 प्रतिशत महिलाएं थीं।

Author नई दिल्ली | December 27, 2016 9:00 PM
Delhi Metro pickpocketer, Metro pickpocketer women, pickpocketer women metro, Delhi metro pickpocketerदिल्ली मेट्रो।

राजधानी में चलने वाली दिल्ली मेट्रो रेल नेटवर्क में पॉकेटमारी के आरोप में सीआईएसएफ द्वारा गिरफ्तार किए गए लोगों में 91 प्रतिशत महिलाएं हैं। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली मेट्रो नेटवर्क को हथियारबंद सुरक्षा मुहैया कराने वाले बल ने इस वर्ष कुल 479 पॉकेटमारों को गिरफ्तार किया है जिनमें से 438 महिलाएं हैं। दिसंबर मध्य तक अद्यतन किये गये पूरे वर्ष के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली की लाइफ लाइन बन चुके मेट्रो रेल में सुरक्षा बलों ने पॉकेटमारी के खिलाफ 100 से ज्यादा अभियान चलाए। दिल्ली मेट्रो रेल में हर रोज तकरीबन 26 लाख यात्री सफर करते हैं। ऐसा नहीं है कि पहली बार गिरफ्तार पॉकेटमारों में महिलाओं की संख्या इतनी ज्यादा है। पिछले कई वर्षों से यहां हालात ऐसे ही हैं।

केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल अभियान के दौरान गिरफ्तार किए गए इन पॉकेटमारों को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए दिल्ली पुलिस को सौंप देती है। हाल ही में सीआईएसएफ ने ऐसी महिलाओं के एक गिरोह का पर्दाफाश किया था जिसने दिल्ली मेट्रो में पति के साथ यात्रा कर रही भारतीय-अमेरिकी महिला के गहने और अन्य कीमती सामान लूट लिया था। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘दिल्ली मेट्रो में पॉकेटमारी के अपराध में शामिल लोगों में 91 प्रतिशत से ज्यादा महिलाएं हैं।’ उन्होंने कहा, ‘ऐसा मालूम हुआ है कि ये महिलाएं बच्चे के साथ समूह में चलती हैं और महिलाओं तथा पुरुषों के पर्स और अन्य कीमती सामान चुरा लेती हैं।’ पिछले वर्ष गिरफ्तार पॉकेटमारों में 93 प्रतिशत महिलाएं थीं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मायावती पर बरसे रामविलास पासवान, कहा- दलित की बेटी होना भ्रष्टाचार के लिए लाइसेंस नहीं
2 2000 के नोटों में चिप होने के डर से नहीं खर्च कर रहे थे लूट के पैसे, आखिरकार चढ़े पुलिस के हत्थे
3 पुलिस ने पांडव नगर में हुई दस लाख की लूट का मामला सुलझाया
ये पढ़ा क्या?
X