ताज़ा खबर
 

दिल्ली हाई कोर्ट का आदेश महिला आयोग के कर्मचारियों को करें भुगतान, उपराज्यपाल को दें जानकारी

इससे पहले पिछले साल 22 दिसंबर को 62 कर्मचारियों को इसी तरह की राहत दी गई थी।

Author नई दिल्ली | January 19, 2017 2:49 AM
AAP, Delhi, Delhi High Court, Buss, Purchase Buses, Delhi High Court on Buses, AAP Government, War Level, Buses to Be Purchased, DTC, Delhi High Court on Pollution, DTC Buses, Buss in Delhi, State newsदिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा कि सभी प्राधिकारों ने विचार दिया है कि वायु प्रदूषण की बड़ी वजह गाड़ियां हैं।

दिल्ली हाई कोर्ट ने बुधवार को दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्लू) को निर्देश दिया कि उसके 35 कर्मचारियों को 50 फीसद वेतन बकाया दिया जाए और उपराज्यपाल की मंजूरी के बिना उसके द्वारा नियुक्त कर्मियों का ब्योरा उपलब्ध कराया जाए। यह आदेश ऐसे दिन आया जब डीसीडब्लू प्रमुख स्वाति मालीवाल को आयोग की भर्ती प्रक्रिया में कथित अनियमितताओं के एक मामले में आरोपी के रूप में तलब किया गया और निचली अदालत ने भ्रष्टाचार रोधी शाखा को आगे जांच करने और अपराध में उनके सहयोगियों की पहचान करने का निर्देश दिया। कई विधि सलाहकारों, सहयोगी स्टाफ और एक मनोविज्ञानी सहित डीसीडब्लू के 35 कर्मचारियों के वेतन के भुगतान के निर्देश से पहले उन्हें उस याचिका में शामिल करने का अनुरोध किया गया जिसमें वेतन के भुगतान की मांग की गई।

इससे पहले पिछले साल 22 दिसंबर को 62 कर्मचारियों को इसी तरह की राहत दी गई थी। जब उपराज्यपाल की ओर से पेश केंद्र सरकार के वकील अनुराग आहलुवालिया ने कहा कि यह पता करने के लिए रिकार्ड के सत्यापन की जरूरत है कि इन लोगों की पहली बार नियुक्ति कहां हुई थी। इसके बाद न्यायमूर्ति संजीव सचदेवा ने आयोग से इन कर्मचारियों से जुड़े संबंधित दस्तावेज मुहैया कराने के लिए कहा। बाइस दिसंबर का आदेश कर्मचारियों की उस याचिका पर आया जिसमें डीसीडब्लू को सितंबर 2016 से नहीं दिए गए वेतन का वितरण करने का निर्देश दिया गया था।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली: उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी आए सीबीआइ जांच के घेरे में
2 सूचना आयोग के सामने दिल्‍ली यूनिवर्सिटी ने माना- स्‍मृति ईरानी ने कहा था कि उनकी डिग्री न दिखाई जाए
3 उत्‍तराखंड चुनाव 2017: कांग्रेस को तगड़ा झटका, बेटे समेत बीजेपी में शामिल हुए एनडी तिवारी
ये पढ़ा क्या ?
X