ताज़ा खबर
 

दिल्ली सरकार ने चीनी मांझे पर लगाया प्रतिबंध

पंद्रह अगस्त को दिल्लीवासियों के पतंगबाजी के शौक को देखते हुए दिल्ली सरकार ने पहले ही लोगों को अगाह कर दिया है कि चीनी मांझे पर प्रतिबंध जारी है और इसके उल्लंघन पर जुर्माने के साथ-साथ जेल भी हो सकती है।
Author नई दिल्ली | July 20, 2017 04:01 am
पतंगे बेचता दुकानदार

दिल्ली सरकार ने बुधवार को एक अधिसूचना जारी कर लोगों से कहा है कि वो चीनी मांझों की खरीद-बिक्री ना करें। पंद्रह अगस्त को दिल्लीवासियों के पतंगबाजी के शौक को देखते हुए दिल्ली सरकार ने पहले ही लोगों को अगाह कर दिया है कि चीनी मांझे पर प्रतिबंध जारी है और इसके उल्लंघन पर जुर्माने के साथ-साथ जेल भी हो सकती है। पिछले साल चीनी मांझे से कई दुखद घटनाएं हुई थीं जिसमें कुछ की जान भी चली गई थी जिसके बाद सरकार ने प्रतिबंध संबंधी अधिसूचना जारी की थी। दिल्ली सरकार द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में चीनी मांझे के नाम से लोकप्रिय नाइलोन, प्लास्टिक या किसी अन्य कृत्रिम पदार्थों से बने पतंग उड़ाने के धागों की बिक्री, उत्पादन, भंडारण, आपूर्ति और उपयोग सभी पर पूरा प्रतिबंध है। इसके साथ ही पतंग उड़ाने के लिए किसी अन्य तीखे धागे का भी उपयोग नहीं किया जा सकता है जिसमें कांच या धातू चढ़ा हो। सरकार ने कहा है कि पतंगबाजी के शौकीन केवल सूत के धागे का उपयोग कर सकते हैं जिसे धातू, कांच, गोंद जैसे पदार्थ चढ़ा कर कड़ा नहीं किया गया हो। पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने ट्विट कर जानकारी दी। खतरनाक चीनी मांझे पर दिल्ली में पूरी तरह प्रतिबंध लागू है।

उपराज्यापाल अनिल बैजल ने इस साल 10 जनवरी को दिल्ली सरकार के चीनी मांझे और पतंग उड़ाने के अन्य हानिकारक धागों को प्रतिबंध लगाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। चीनी मांझा पर लगे प्रतिबंध का उल्लंघन करने पर पांच साल तक की सजा या एक लाख रुपए का जुर्माना या दोनों हो सकते हैं। दिल्ली सरकार ने कहा है कि लोग चीनी मांझे पर लगे प्रतिबंध के उल्लंघन की शिकायत दिल्ली पुलिस (100), डिविजनल कमिश्नर (दिल्ली सरकार)(23962825), तीनों नगर निगमों के कमिश्नर (1266 और 155303) या दिल्ली सरकार के प्रमुख वन्यजीवन वार्डन (9871963535) को उनके हेल्पलाइन नंबर पर कर सकते हैं। इसी 11 जुलाई को राष्ट्रीय हरित पंचाट ने चीनी मांझे पर पूरे देश में प्रतिबंध लगाने की वकालत की थी और राज्य सरकारों को इसके लिए निर्देश जारी करने का आदेश दिया था। दिल्ली में चीनी मांझे को लेकर प्रतिबंध संबंधी अधिसूचना जारी करने पर पिछले साल दिल्ली सरकार और उपराज्पाल कार्यालय के बीच देरी को लेकर काफी विवाद हुआ था और अंतत: सरकार ने 15 अगस्त को अधिसूचना जारी की थी। इस अधिसूचना पर लोगों से सुझाव मांगे गए थे और उसके बाद प्रतिबंध संबंधी अंतिम अधिसूचना जारी करने की बात कही गई थी। इसी बीच 11 अगस्त 2016 को दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार और नगर निगमों से पंद्रह अगस्त के मद्देनजर लोगों के लिए अधिसूचना जारी करने का निर्देश दिया था। गौरतलब है कि पिछले साल चीनी मांझे से उलझ कर गला कटने से दो बच्चों और एक व्यस्क की मौत हो गई थी जबकि दिल्ली पुलिस का एक सब-इंस्पेक्टर इसी मांझे से घायल हो गया था।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.