ताज़ा खबर
 

विज्ञान मंत्रालय के सफर का अनुमान-आज और कल बिगड़ी रहेगी हवा, जहरीले बारीक कण और बढ़ेंगे

इतवार को शहर की वायु गुणवत्ता हवा का सूचकांक दिल्ली में अधिकतम 500 में से 365 रहा।

Author नई दिल्ली | December 4, 2017 2:35 AM
प्रदूषण के चलते श्रीलंका के कई खिलाड़ी मास्‍क पहनकर मैदान में उतरे। (Photo: PTI)

दिल्ली-एनसीआर में दो दिन से धुंध और धुएं की चादर सी बिछी हुई है। सप्ताहांत कम तापमान और लगभग न के बराबर हवा के कारण रविवार को हवा की गुणवत्ता बेहद खराब रही और धुधंलका छाया रहा। इतवार को शहर की वायु गुणवत्ता हवा का सूचकांक दिल्ली में अधिकतम 500 में से 365 रहा। इसे बहुत ख्रराब की श्रेणी में माना जाएगा। कुल मिलाकर शनिवार के मुकाबले को रविवार को जहरीली हवा में सांस लेना मुश्किल भरा रहा। हालांकि शनिवार को सूचकांक 331 पर था, जो बेहद खराब की श्रेणी में रखा गया।
भू विज्ञान मंत्रालय के सिस्टम आॅ्रफ एअर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के अनुसार सोमवार और मंगलवार को धुंध और धुएं की स्थिति और भी ज्यादा खराब हो सकती है। रविवार शाम पीएम 2.5 की सघनता189 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रही। सफर का अनुमान है कि सोमवार को पीएम2.5 की सघनता 204 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रहेगी और   मंगलवार को यह 213 माइक्रोग्राम पर क्यूबिक मीटर हो जाएगी जबकि पीएम 2.5 की सघनता 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर होनी चाहिए। मौसम विभाग के अधिकारियों का कहना है कि रविवार को सुबह 8:30 बजे से 2:30 बजे तक हवाएं थमी रहीं। शाम को हवा चलनी शुरू हुई लेकिन उसकी गति 6 किलोमीटर प्रति घंटे ही रही। रविवार सुबह निम्नतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से एक डिग्री कम था जबकि अधिकतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से एक डिग्री ज्यादा रहा।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण मंड (सीपीसीबी) ने सलाह दी है कि खराब गुणवत्ता वाली हवा में बहुत देर तक बाहर रहने के कारण सांस संबंधी बीमारी गंभीर हो सकती है।
मौसम एजंसियों के मुताबिक, सोमवार को भी कोहरे और धुंध की आशंका है, लेकिन, चक्रवाती तूफान ओखी के प्रभाव के कारण 5 व 6 दिसंबर से दिल्ली सहित मैदानी राज्यों में दक्षिण-पश्चिमी आर्द्र हवाएं चल सकती हैं और हल्की बारिश भी हो सकती है, जिससे ठंड बढ़ेगी और प्रदूषण घटेगा।  रविवार की धुंध और कमजोर धूप के कारण पिछले कुछ दिनों से सामान्य से अधिक बने रहे अधिकतम तापमान में लगभग 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, सोमवार सुबह भी धुंध की संभावना है, जबकि दिन में बादल छाए रह सकते हैं। तापमान 24 व 9 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। वहीं मंगलवार और बुधवार को राजधानी में हल्की बारिश हो सकती है, जबकि गुरुवार को बादल छाए रहने का पूर्वानुमान है। इसके बाद फिर से दिन में धूप खिलने के आसार हैं।  निजी मौसम एजंसी स्काईमेट के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवाती तूफान ओखी के कारण दिल्ली में दक्षिण-पश्चिमी नम हवाएं पहुंच रही हैं। बादल भी दिखाई दे रहे हैंं। ओखी चक्रवात लक्षद्वीप से आगे बढ़ गया है और खबर लिखे जाने तक मुंबई से लगभग 900 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में है। सोमवार शाम तक यह मुंबई के तटों के करीब पहुंच जाएगा। इसी चक्रवात के प्रभाव से दक्षिण-पश्चिमी आर्द्र हवाएं दिल्ली सहित उत्तर भारत के मैदानी राज्यों में सोमवार शाम से और प्रभावी हो जाएंगी।

मास्क पहनकर उतरना पड़ा श्रीलंकाइयों को

भारत और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे तीसरे और अंतिम क्रिकेट टैस्ट के दौरान उस समय शर्मनाक स्थिति पैदा हो गई जब प्रदूषण से वायु गुणवत्ता खराब होने के कारण लंच के बाद कई बार खेल रोकना पड़ा। श्रीलंका की टीम के अधिकांश खिलाड़ी लंच के बाद मास्क पहनकर उतरे। पारी के 123वें ओवर में खराब वायु गुणवत्ता के कारण लगभग 17 मिनट तक खेल रोकना पड़ा। मैच रैफरी बाकी पेज 8 पर डेविड बून ने डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद मैच दोबारा शुरू कराने का फैसला किया। मैच दोबारा शुरू होने पर गेंदबाज और विकेटकीपर को छोड़कर श्रीलंका के सभी खिलाड़ी मास्क पहनकर क्षेत्ररक्षण करते हुए नजर आए। पारी के 127वें ओवर में एक बार फिर खेल रोकना पड़ा। श्रीलंका के टीम मैनेजर असांका गुरुसिंहा और भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री से बातचीत के बाद अंपायरों ने पांच मिनट बाद दोबारा खेल शुरू कराने का फैसला किया।टैस्ट क्रिकेट के 140 साल के इतिहास में यह इस तरह की पहली घटना है जब अंतरराष्ट्रीय टीम के क्षेत्ररक्षकों को प्रदूषण के कारण मास्क पहनकर खेलना पड़ा हो और फिर उन्होंने खेल जारी रखने से इनकार कर दिया। इस दौरान दर्शकों ने श्रीलकाई खिलाड़ियों की ‘लूजर, लूजर’ कहकर इस कदम के लिए आलोचना करना शुरू कर दिया। दिलचस्प बात है कि जब भारतीय टीम क्षेत्ररक्षण के लिए मैदान पर उतरी तो किसी भी खिलाड़ी ने मास्क नहीं पहना हुआ था।

यह भी सवाल उठ रहे हैं कि तीसरे दिन मैच जारी रहेगा या नहीं क्योंकि दोनों बोर्डों को बैठकर इस मुद्दे का निपटारा करना होगा। कोटला के समीप आइटीओ पर लगे वायु गुणावत्ता सूचकांक के अनुसार इस समय ‘एयर क्वालिटी इंडेक्स’ 206 के करीब था जिसे सेहत के लिए खतरनाक माना जाता है। इस बीच श्रीलंका के तेज गेंदबाज लाहिरू गमागे और सुरंगा लकमल भी सांस लेने में तकलीफ के कारण मैदान से बाहर चले गए। सलामी बल्लेबाज सदीरा समरविक्रम को शनिवार को क्षेत्ररक्षण के दौरान हेलमेट में गेंद लगी थी जिसके कारण वह रविवार को मैदान पर नहीं उतरे। इससे श्रीलंका के पास क्षेत्ररक्षकों की कमी हो गई और 128वें ओवर में खेल रोकना पड़ा। कोहली ने इसके साथ ही पारी घोषित कर दी। दिल्ली को पिछले कुछ समय से प्रदूषण की समस्या का सामना करना पड़ा है। पिछले साल प्रदूषण के कारण दिल्ली में दो रणजी मैच रद्द करने पड़े थे। इस साल नवंबर में प्रदूषण का स्तर बढ़ने पर दिल्ली सरकार ने स्कूलों को बंद करने की घोषणा भी की थी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App