ताज़ा खबर
 

गर्मी की छुट्टियों में खुले रह सकते हैं दिल्ली के स्कूल, कोरोना बंदी की होगी भरपाई? मनीष सिसोदिया ने अभिभावकों से मांगे सुझाव

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने हाल ही में अभिभावकों की चिंताओं पर एक ऑनलाइन इंटरेक्टिव सेशन के जरिए जवाब दिए।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अभिभावकों से गर्मियों की छुट्टियों के दौरान स्कूल खोलने पर सुझाव मांगे हैं। सिसोदिया ने पूछा है कि क्या कोरोनावायरस लॉकडाउन के चलते बच्चों की पढ़ाई का जो नुकसान हुआ है, उसे गर्मियों में क्लासेज चलाकर पूरा कराया जा सकता है।

हाल ही में एक ऑनलाइन इंटरेक्टिव सेशन ‘पैरेंटिग इन द टाइम ऑफ लॉकडाउन’ में दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने लोगों के सवालों के जवाब दिए। इनमें लॉकडाउन के दौरान बच्चों की बोरियत को कैसे दूर करें, उन्हें व्यस्त रखने के लिए कौन सी एक्टिविटीज कराई जाएं और माता-पिता काम और वित्तीय व्यवस्थाओं में सामंजस्य कैसे बिठाएं, इस पर चर्चा हुई। इसी सेशन के दौरान सिसोदिया ने कहा कि इस बारे में विचार किया जाना चाहिए कि क्या स्कूल गर्मियों की छुट्टी के दौरान क्लासेज ले सकते हैं, ताकि बच्चों को लॉकडाउन की वजह से हुए पढ़ाई के नुकसान की भरपाई की जा सके। हम इस पर सुझाव चाहते हैं।

सिसोदिया ने कहा, “हमने इसके लिए आधारभूत सच्चाइयों को भी दिमाग में रखा है, जैसे गर्मियों के दौरान लू चलने से बच्चों को परेशानी होगी। इसलिए इस बारे में अफसरों के किसी फैसले की जगह हम अभिभावकों के विचार जानना चाहते हैं कि क्या ऐसा कुछ मुमकिन है।”

बातचीत के दौरान केजरीवाल ने अभिभावकों से कहा कि वे सुनिश्चित करें कि उनके बच्चे लगातार टीवी पर दुनियाभर में हो रही मौतों से जुड़ी न्यूज न देखें। क्योंकि इससे उनके मानसिक स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है। केजरीवाल ने आगे कहा, “कुछ माता-पिता वर्क फ्रॉम होम और आर्थिक समस्याओं के दबाव से जूझ रहे हैं। हम उनसे अपील करेंगे कि वे इस मुश्किल समय को धैर्य से गुजारें और बच्चों पर इसका असर न पड़ने दें।”

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं | क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

केजरीवाल ने कहा, “यह काफी मुश्किल समय है, लेकिन माता-पिता इसे अपने बच्चों के साथ अच्छा बॉन्ड बनाने में इस्तेमाल कर सकते हैं। वे इस समय कुछ ऐसे काम कर सकते हैं, जिसे वे आमतौर पर समय की कमी की वजह से नहीं कर पाते।”

Next Stories
1 कोरोना से लड़ाई: भीड़ में मास्‍क बांटते मनोज त‍िवारी का वीड‍ियो वायरल, लोग उड़ा रहे मजाक
2 हम दीया तो जला देंगे, पर आप डंवाडोल अर्थव्यवस्था पर कब बोलेंगे? पीएम मोदी पर चिदंबरम का निशाना
3 खुलासा: शाहीन बाग भी पहुंचे थे तब्लीगी जमात के लोग, दिल्ली में फट सकता है कोरोना संक्रमण का बम, एजेंसियां अलर्ट
ये पढ़ा क्या?
X