ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली: लड़की का पीछा करने के आरोपी को ‘गरीबी’ के चलते अदालत ने किया रिहा

27 दिसंबर 2013 को इस मामले की पीड़िता ने शिकायत दर्ज कराई थी। अपनी शिकायत में पीड़ित नाबालिग छात्रा ने कहा था कि आरोपी शख्स उसका पीछा करता है और उसपर शादी करने के लिए दबाव बना रहा है।

Author Updated: April 30, 2018 6:43 PM
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

दिल्ली की एक अदालत ने एक नाबालिग छात्रा का पीछा करने के आरोपी एक शख्स को उसकी खराब आर्थिक हालात को देखते हुए उसे रिहा कर दिया। एडिशनल सेशन जज गुलशन कुमार ने इस मामले के आरोपी राजा को 20000 रूपए के मुचलके पर रिहा कर दिया और भविष्य में अच्छा व्यवहार करने का निर्देश भी दिया। 12वीं की एक छात्रा का पीछा करने के आरोप में इस शख्स को छह महीने की कैद की सजा सुनाई गई थी। लेकिन इस शख्स की खराब आर्थिक हालत को देखते हुए अदालत ने उसकी छह साल की कैद की सजा को निरस्त कर दिया। अदालत ने इस शख्स को प्रोबेशन पर छोड़ दिया।
पहले कभी दर्ज नहीं हुआ कोई मामला: इस मामले में न्यायाधीश ने कहा कि इस मामले के आरोपी के बारे में प्रोबेशन अधिकारी से एक रिपोर्ट मांगी गई थी। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि आरोपी पर पहले कभी कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है, उसका जीवन बेदाग था। जिसपर कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि सभी तथ्यों को ध्यान में रखते हुए, उसकी गरीबी को देखते हुए उसे एक साल की प्रोबेशन पर छोड़ा जाना उचित है।

यह है पूरा मामला: 27 दिसंबर 2013 को इस मामले की पीड़िता ने शिकायत दर्ज कराई थी। अपनी शिकायत में पीड़ित नाबालिग छात्र ने कहा था कि आरोपी शख्स उसका पीछा करता है और उसपर शादी करने के लिए दबाव बना रहा है। पीड़िता ने कहा कि राजा पिछले दो महीनों से लगातार उसका पीछा कर रहा है और शादी के लिए उसपर दवाब बना रहा है, जबकि उसने कई बार इसके लिए उसे मना कर दिया है। लड़की का कहना था कि जब कभी वो कोचिंग जाती थी राजा उसका पीछा करता था और शादी के लिए दबाव बनाने की कोशिश करता था।

इस मामले में राजा पर आईपीसी की धारा 354D के तहत केस दर्ज किया गया। 8 मार्च 2016 को ट्रायल कोर्ट ने इस मामले में उसे दोषी मानते हुए छह महीने तक जेल की सजा सुनाई। निचली अदालत से मिली सजा के खिलाफ उसने अपील की। अपनी अपील में आरोपी राजा ने कहा था कि वह कभी किसी भी आपराधिक मामले में शामिल नहीं रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 VIDEO: कांग्रेस की जन आक्रोश रैली में खाली कुर्सियां दिखा रहे रिपोर्टर से बदसलूकी, जोर दिखाने लगे कांग्रेसी