ताज़ा खबर
 

दिल्ली: एलजी ने रोकी तीर्थ यात्रा योजना तो भड़क गए अरविंद केजरीवाल, बोले- ऐसे कैसे चलाऊं सरकार

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि है कि उप राज्यपाल उन्हें ठीक से काम नहीं करने दे रहे हैं। उन्होंने कहा है कि सरकार की हर योजना में बाधा डाली जा रही है। केजरीवाल ने शुक्रवार (30 मार्च, 2018) एक ट्वीट भी किया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) संयोजक अरविंद केजरीवाल ने उप राज्यपाल अनिल बैजल के प्रति सख्त नाराजगी जाहिर की है। केजरीवाल ने आरोप लगाया कि है कि उप राज्यपाल उन्हें ठीक से काम नहीं करने दे रहे हैं। उन्होंने कहा है कि सरकार की हर योजना में बाधा डाली जा रही है। केजरीवाल ने शुक्रवार (30 मार्च, 2018) एक ट्वीट भी किया है। इसमें उन्होंने लिखा, ‘मुझे बहुत-बहुत दुख हो रहा है। उप राज्यपाल व्यवहारिक रूप से हर योजना और दिल्ली सरकार के प्रोजेक्ट में बाधा डाल रहे हैं। हम इस तरह सरकार कैसे चला सकते हैं?’ मुख्यमंत्री ने ट्वीट में आगे लिखा, ‘मेरी भाजपा से अपील है कि हमारे काम में बाधा ना डालें। मैं दूसरे राज्यों में आपकी (भाजपा) सरकार को काम को लेकर प्रतिस्पर्धा करने की चुनौती देता हूं।’ दरअसल केजरीवाल ने कैबिनेट मिनिस्टर कैलाश गहलोत का एक ट्वीट रिट्वीट किया है। ट्वीट में उन्होंने तीर्थ यात्रा योजना में एलजी पर एतराज जताने का आरोप लगाया है।

केजरीवाल के इस ट्वीट पर ट्विटर यूजर्स ने भी प्रतिक्रियाएं दी हैं। कई यूजर्स ने उनके समर्थन में अपनी बातें कहीं हैं जबकि कुछ यूजर्स ने मुख्यमंत्री पर नौटंकी करने का आरोप लगाया है। एक ट्वीट में लिखा गया है कि केजरीवाल को नौटंकी के बजाय लोगों से बातचीत करनी चाहिए। वरना लोगों की उनके प्रति सहानुभूति भी खत्म हो जाएगी। ट्वीट में आगे लिखा गया कि कभी-कभी केजरीवाल इतनी सहानुभूति लेते हैं कि लोगों के साथ कुछ हो जाए तो वो बचेंगे भी या नहीं। वहीं इशू गुप्ता आप सरकार का समर्थन करते हुए लिखती हैं, ‘दिल्ली एक मात्र राज्य है जहां एक लोकतांत्रिक सरकार के फैसलों को दरकिनार कर एलजी अपना शासन चलाना चाहते हैं।’

एक ट्वीट में लिखा गया कि सरकार ने सस्ती बिजली मुहैया कराने का झूठा वादा किया था। स्थाई शुल्क में 6 गुना बढ़ोतरी कर सरकार सस्ती बिजली के नाम पर लोगों को गुमराह कर रही है। ऋष्ठी मान ने केजरीवाल सरकार पर गरीबों के खिलाफ होने का आरोप लगाया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App