ताज़ा खबर
 

DCW भर्ती घोटाला: स्वाति मालीवाल के खिलाफ FIR, डिप्टी CM मनीष सिसोदिया को भी भेजा जाएगा नोटिस

आम आदमी पार्टी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पूर्व मंत्री संदीप के सेक्स सीडी मामले में फंसने के बाद अब दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज हुई है।

Author नई दिल्ली | September 20, 2016 3:01 PM
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल।

आम आदमी पार्टी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पूर्व मंत्री संदीप के सेक्स सीडी मामले में फंसने के बाद अब दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज हुई है। मंगलवार को दिल्ली के एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने महिला आयोग में हुई भर्तियों में गड़बड़ी के आरोप में मालीवाल के खिलाफ केस दर्ज किया। इससे पहले मालीवाल से सोमवार को एसीबी ने 2 घंटे से ज्यादा पूछताछ की थी। आयोग में कथित गैर कानूनी भर्तियों की एक शिकायत के सिलसिले में DCW की प्रमुख से पूछताछ की गई थी।

DCW चीफ के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद एसीबी प्रमुख एमके मीणा ने कहा कि इस मामले में जांच जारी है। केस से जुड़े सभी लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा। हम इस केस में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को भी नोटिस भेजेंगे। बता दें कि डीसीडब्लू की पूर्व प्रमुख बरखा शुक्ल सिंह की एक शिकायत के आधार पर एसीबी जांच कर रही है। अपनी शिकायत में बरखा सिंह ने दावा किया था कि आप के कई समर्थकों को डीसीडब्लू में पद दिया गया है।

एसीबी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक पांच सदस्यीय टीम सोमवार सुबह 11 बजे स्वाति मालीवाल से पूछताछ के लिए डीसीडब्लू पहुंची थी। एसीबी ने पिछले सप्ताह स्वाति मालीवाल को एक नोटिस भेजा था जिसमें उन्हें बताया गया था कि उनसे 19 सितंबर को पूछताछ की जा सकती है। दो घंटे चली पूछताछ के बाद मालीवाल ने कहा था कि उनसे 27 सवाल पूछे गए। नियुक्तियों के सवाल पर स्वाती मालिवाल ने कहा, ‘हमने नियुक्तियां की हैं, सही बात है। पूर्व डीसीडब्लू प्रमुख ने आईएएस और आईपीएस की पत्नियों की नियुक्तियां की थीं जब की आठ साल में सिर्फ एक केस किया। हमारे पास उनकी नियुक्तियों के भी दस्तावेज हैं और हमारी नियुक्तियों के भी। हम पर सवाल ये है कि हम दिन-रात काम क्यों कर रहे हैं। पहले की चीफ से सवाल नहीं किया गया कि उन्होंने आठ साल में एक केस क्यों किया।’ मालिवाल ने अपने दावे को दोहराया कि सभी नियुक्तियां प्रक्रिया के तहत की गई हैं।’ पूर्व डीसीडब्लू प्रमुख बरखा सिंह ने एसीबी में दर्ज अपनी शिकायत में 85 लोगों का नाम दिया है। उन्होंने दावा किया है कि इन्हें बिना अपेक्षित योग्यता के नौकरी दी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App