ताज़ा खबर
 

गौमांस की अफवाह के चलते मारे गए वृद्ध को केंद्रीय मंत्री ने दिया दुर्घटना करार, कहा न दिया जाए सांप्रदायिक रंग

दादरी में कथित तौर पर गौमांस खाने पर भीड़ के द्वारा पीट-पीट कर मार डाले गए 50 वर्षीय व्यक्ति की मौत को केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने....
Author नई दिल्ली | October 2, 2015 09:25 am

दादरी में कथित तौर पर गौमांस खाने पर भीड़ के द्वारा पीट-पीट कर मार डाले गए 50 वर्षीय व्यक्ति की मौत को केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने दुर्घटना करार दिया है और कहा है कि इसे कोई ‘सांप्रदायिक रंग’ नहीं दिया जाना चाहिए। वहीं पीड़ित का परिवार गांव छोड़ने की योजना बना रहा है क्योंकि उसे डर है कि ऐसा दोबारा हो सकता है।

पर्यटन राज्य मंत्री और नोएडा से भाजपा के सांसद महेश शर्मा ने कहा, ‘इस घटना को एक दुर्घटना माना जाना चाहिए और इसे कोई सांप्रदायिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘दो अन्य परिवार इस प्रभावित परिवार के साथ गांव के बीच में रहते हैं और इनकी दीवारें दूसरों से सटी हैं। गांव के बाहरी हिस्से में दूसरे समुदाय के 10-12 मकान हैं लेकिन उनसे जुड़ी कोई घटना नहीं हुई है।’

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह घटना किसी गलतफहमी के चलते हुई और कानून को इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ निष्पक्षता के साथ काम करना चाहिए।’

भीड़ द्वारा बुरी तरह पीटे जाने के बाद अखलाक नामक व्यक्ति की मौत हो गई थी और उसके 22 वर्षीय बेटे दानिश को गंभीर चोटें आई थीं। यह घटना उस समय हुई, जब परिवार द्वारा गौमांस खाए जाने की अफवाहें फैलने के बाद लोगों की भीड़ सोमवार रात को जबरन इनके घर में घुस आई थी।

अखलाक का दूसरा बेटा सरताज भारतीय वायु सेना में तैनात है। उसने अपने पिता के हत्यारों के लिए सजा की मांग की है। उन्होंने कहा, ‘जिन्होंने मेरे पिता की हत्या की है, उन्हें गिरफ्तार किया जाए। मैं जानना चाहता हूं कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। उन्हें सजा दी जानी चाहिए ताकि भविष्य में गांव का कोई व्यक्ति दोबारा ऐसा करने की हिम्मत न जुटा पाए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.