ताज़ा खबर
 

दिल्ली: उत्तर-पूर्वी जिले में बदमाश चुस्त, पुलिस सुस्त

दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले में पुलिसवाले बदमाशों के हौसलों के आगे पस्त हैं। देर रात और तड़के सड़क पर पत्थर रखकर लोगों को गिराकर घायल करने और लूटपाट करने की दर्जन भर घटना के बाद भी दिल्ली पुलिस की नींद नहीं टूट रही।

Author नई दिल्ली | June 26, 2017 12:28 AM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले में पुलिसवाले बदमाशों के हौसलों के आगे पस्त हैं। देर रात और तड़के सड़क पर पत्थर रखकर लोगों को गिराकर घायल करने और लूटपाट करने की दर्जन भर घटना के बाद भी दिल्ली पुलिस की नींद नहीं टूट रही। पीड़ितों का आरोप है कि पुलिस वाले रिपोर्ट लिखने में आनाकानी करते हैं। जिससे बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। इलाके के संदीप कुमार बताते हैं कि नानकसर से वजीराबादपुल की तरफ श्मशान घाट के पास कुछ बदमाशों ने अपना ठिकाना बना रखा है। वे देर रात या तड़के बाहरी लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं। तेज गति से जा रही मोटरसाइकिल या छोटे वाहनों को अपना निशाना बनाने के लिए वे सड़क पर पत्थर लगाकर छुप जाते हैं।

जैसे ही गाड़ियां उसकी चपेट में आकर दुर्घटनाग्रस्त होती हैं छिपे बदमाश हथियार के बल पर उनसे लूटपाट करते हैं। एक पीड़ित ने नाम उजागर न करने की शर्त पर बताया कि पुलिस वाले शिकायत दर्ज कराने में आनाकानी करते हैं। पुलिस के सालाना आंकड़े बताते हैं कि यहां बीते साल कुल 38 हजार 870 आइपीसी के मामले दर्ज हुए। जबकि इससे पहले साल यहां 33 हजार 899 मामले दर्ज हुए थे। हालांकि डकैती, हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट, दंगे, अपहरण और बलात्कार के दर्ज मामले के खुलासे का फीसद यहां ज्यादा हैं। इस पूरे इलाके में लालबत्ती पर जाम सालों भर लगा होता है। ट्रैफिक पुलिस वाले भारी वाहनों ट्रक और बसों को रोकने में व्यस्त दिखते हैं नतीजा जाम से लोगों का जीना मुहाल है।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 15445 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback
  • MICROMAX Q4001 VDEO 1 Grey
    ₹ 4000 MRP ₹ 5499 -27%
    ₹400 Cashback

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App