ताज़ा खबर
 

अब दिल्ली में “गोरक्षकों” ने मदरसे के पास दो लोगों को टेम्पो से खींचा, आयरन रॉड से पीटा

दिल्ली में कुछ लोगों ने मदरसे के बाहर दो लोगों से साथ मारपीट की। वे दोनों लोग ईद के बाद भैंसों के मांस के बचे हुए टुकड़ों और हड्डियों को फेंकने के लिए टेम्पो में भरकर ले जा रहे थे।

जिन लोगों की पिटाई हुई वे संजय गांधी हॉस्पिटल में भर्ती हैं।

दिल्ली में कुछ लोगों ने मदरसे के बाहर दो लोगों से साथ मारपीट की। वे दोनों लोग ईद के बाद भैंसों के मांस के बचे हुए टुकड़ों और हड्डियों को फेंकने के लिए टेम्पो में भरकर ले जा रहे थे। जिन लोगों की पिटाई हुई है उनमे से एक का नाम हाफिज अब्दुल खालिद है। वह 25 साल का है। वह मदरसे में पढ़ाता भी है। वहीं दूसरे का नाम अली हसन है। वह 35 साल का है। जिन लोगों ने इन दोनों को पीटा उनके गौरक्षक होने का शक है। यह घटना नांगलोई के प्रेम नगर की है। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, ईद के अगले दिन यानी बुधवार (14 सितंबर) को ये लोग भैंस या भैंसे के मांस के बचे हुए टुकड़ों और हड्डियों को टेम्पो में भरकर ले जा रहे थे। तब वहीं रहने वाले दो लोग जो कि मोटरसाइकिल पर जा रहे थे उन्होंने दोनों को टेम्पो से उतार लिया और फिर उन्हें पीटना शुरू कर दिया। आरोप है कि दोनों को लोहे की रॉड से पीटा गया। खबर के मुताबिक, इतनी देर में गौरक्षकों ने फोन करके और लोगों को भी आने को कह दिया था। घटनास्थल पर मौजूद लोगों का कहना है कि देखते ही देखते वहां पर 24 के करीब और लड़के आ गए थे। इसके बाद दोनों तरफ के लोगों ने आपस में लड़ाई शुरू कर दी थी। हालांकि, बाद में पुलिस ने आकर स्थिति को काबू में कर लिया।

पुलिस ने इस मामले में चार लड़कों को पकड़ भी लिया है। जिन लड़कों को पकड़ा गया है उनके नाम नवीन, राजू, देवेश और अभिषेक हैं। पुलिस ने चारों लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। वहीं खालिद और हसन फिलहाल संजय गांधी हॉस्पिटल में भर्ती हैं। दोनों को फिलहाल कुछ दिन वहीं रहना पड़ेगा। हसन ने बताया कि वे लोग ऐसे किसी संगठन का नाम ले रहे थे जो जिसके बारे में उन्होंने पहले कभी नहीं सुना था। हसन और खालिद टेम्पो में 18 भैंसों की हड्डियां और बचा हुआ मांस ले जा रहे थे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App