ताज़ा खबर
 

कोरोना में द‍िल्‍ली बंदी: जान‍िए कौन आईडी द‍िखा कर चल सकते हैं और क‍िन्‍हें चाह‍िए होगा कर्फ्यू पास

Coronaviurs: उदाहरण देते हुए दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मंदीप सिंह रंधावा ने बताया कि आवश्यक सेवाएं देने वाली कंपनी के ड्राइवर के रूप में काम करने वाले व्यक्ति के पास कार्यालय आईडी नहीं हो सकती है, और इसलिए उसे कार्यस्थल तक पहुंचने के लिए कर्फ्यू पास की आवश्यकता होगी।

delhi policeसीएम केजरीवाल के इस बयान के बाद दिल्ली पुलिस कमिश्नर एएन श्रीवास्तव द्वारा सभी पुलिस अधिकारियों को संदेश दिया गया कि शहर में उन्हीं लोगों को आने-जाने की अनुमति दी जाएगी और ‘जरुरी’ सेवाओं के लिए काम कर रहे हैं।

Coronaviurs: देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए अब तक 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने पूरी तरह लॉकडाउन (बंद) की घोषणा कर दी है। इसका मतलब है कि देशभर में कुल 560 जिलों में लॉकडाउन है। अधिकारियों ने मंगलवार (24 मार्च, 2020) को बताया कि तीन अन्य राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने अपने यहां के कुछ इलाकों में बंद लागू किया है जिसके दायरे में 58 जिले आ रहे हैं। एक केंद्र शासित प्रदेश ने अपने क्षेत्र में कुछ गतिविधियों पर रोक लगाई है। सरकार के एक अधिकारी ने कहा, ‘केंद्र सरकार की ओर से राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को जारी निर्देश के अनुपालन में कुल 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पूर्ण बंद की घोषणा कर दी गई है। इसका मतलब है कि कुल 560 जिलों में लॉकडाउन है।’

Coronavirus in India: क्‍वारेंटीन फेसिलिटी की तरह इस्‍तेमाल किए जाएंगे देशभर के खाली हुए यूनिवर्सिटी हॉस्‍टल, IIT दिल्‍ली ने किया इंकार

Coronavirus in India & Curfew LIVE Updates: आयकर रिटर्न फाइल करने की समयसीमा बढ़ी, अब 30 जून तक भर सकेंगे इन्कम टैक्स

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी कोरोना वायरस के चलते सीआरपीसी की धारा 144 लागू है। इसका मतलब है कि एक जगह चार या इससे ज्यादा व्यक्ति एक जगह इकट्ठा नहीं सकते हैं। दिल्ली पुलिस ने कोरोना संक्रमण के चलते और ज्यादा सख्ती बरती है और केंद्र शासित प्रदेश के बॉर्डरों को पूरी तरह से सील कर दिया है। अब शहर से बाहर निकलने और शहर में प्रवेश के लिए कर्फ्यू पास होना अनिवार्य है। यह निर्णय ऐसे समय में लिया गया है कि जब समीक्षा बैठक में सामने आया है कि कोरोना संक्रमण से रोकने के लिए प्रशासन ने जो कदम उठाए वो, नाकाफी है। सीएम केजरीवाल ने भी खुद कहा कि लोग लॉकडाउन के नियमों का पूरी तरह से पालन नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोगों का ऐसा व्यवहार ‘अस्वीकार्य’ है। उन्होंने कहा कि अगर लोग अपने घरों में नहीं रुके तो लॉकडाउन के नियमों को सख्ती से लागू किया जाएगा।

सीएम केजरीवाल के इस बयान के बाद दिल्ली पुलिस कमिश्नर एएन श्रीवास्तव द्वारा सभी पुलिस अधिकारियों को संदेश दिया गया कि शहर में उन्हीं लोगों को आने-जाने की अनुमति दी जाए जो ‘जरुरी’ सेवाओं से जुड़े क्षेत्रों के लिए काम कर रहे हैं। जरुरी सेवाओं में पुलिस, अर्धसैनिक बल, सरकारी अधिकारियों का एक वर्ग, स्वास्थ्य से जुड़ी वस्तुएं मुहैया कराने वाले, फायर सर्विस, प्रिंट और इलेक्ट्रोनिक मीडिया, बैंक स्टाफ, ई-कॉमर्स के जरूरी सामान, रेस्त्रां या होम डिलीवरी रेस्तरां के कर्मचारी, केमिस्ट सहित अन्यों जरुरी पेशे से जुड़े लोग शामिल हैं सोमवार शाम को दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों संग हुई बैठक में श्रीवास्तव ने तत्काल प्रभाव से शहर से लगने वाले सभी बॉर्डर को सील करने का निर्देश जारी किया। हालांकि इस बीच जरुरी चीजों के आने-जाने की अनुमति होगी।

नए दिशानिर्देशों के तहत शहर में दाखिल होने और शहर से बाहर जाने के लिए सिर्फ अत्यावश्यक सेवाएं देने वाले शख्स को ही अनुमति होगी। इसके लिए भी वैध पास होना चाहिए। ऐसे में जिस शख्स के पास कर्फ्यू पास नहीं होगा उसे पुलिस के विवेक के आधार पर पास दिया जा सकता है।

उदाहरण देते हुए दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मंदीप सिंह रंधावा ने बताया कि आवश्यक सेवाएं देने वाली कंपनी के ड्राइवर के रूप में काम करने वाले व्यक्ति के पास कार्यालय आईडी नहीं हो सकती है, और इसलिए उसे कार्यस्थल तक पहुंचने के लिए कर्फ्यू पास की आवश्यकता होगी। इसी तरह, एक अन्य अधिकारी ने कहा कि अगर एमसीडी किसी निजी ठेकेदार को तत्काल काम आउटसोर्स करना चाहता है, तो प्राधिकरण को पहले ठेकेदार और उसके कर्मचारियों के लिए कर्फ्यू पास लेने की आवश्यकता होगी। मीडियाकर्मियों को कर्फ्यू पास की जरुरत नहीं होगी और अपना आईडी कार्ड दिखा सकते हैं।

मामले में पुलिस प्रवक्ता रंधावा ने कहा, ‘जरुरी सेवाओं से जुड़े संगठन संबंधित जिले के पुलिस उपायुक्त कार्यालय से कर्फ्यू पास लेंगे। जिले के अतिरिक्त डीसीपी आवश्यकताओं का आकलन करने के बाद पास जारी करेंगे। राजधानी के बाहर स्थित निजी संगठन आवश्यक सेवाओं में शामिल कर्मचारियों के लिए कर्फ्यू पास ले सकतें हैं।'(जनसत्ता इनपुट सहित)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Coronavirus: राज्यों के आग्रह पर ‘क्वारंटाइन सेंटर’ बनने के लिए तैयार IIT बम्बई, दिल्ली IIT ने किया इंकार
2 COVID-19 का प्रकोपः शाहीन बाग के बाद जामिया, सीलमपुर और जाफराबाद समेत 7 जगह CAA के खिलाफ धरना खत्म
3 Coronavirus का खतरा: लखनऊ में 66 दिन बाद CAA विरोधी प्रदर्शन से हटी महिलाएं, पर शाहीन बाग में डटीं, बदली रणनीति
यह पढ़ा क्या?
X