ताज़ा खबर
 

नोटबंदी ने लाखों लोगों को किया बेरोजगार : माकन

पूरे देश में तकरीबन 150 लोगों की मृत्यु हो गई। मजदूरों को काम न मिलने के कारण दिल्ली छोड़ने पर मजबूर होना पड़ा।

Author नई दिल्ली | November 9, 2017 02:53 am
कांग्रेस नेता अजय माकन की फाइल फोटो।

कांग्रेस और उससे संबद्ध विभिन्न संगठनों ने नोटबंदी की घोषणा के एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में ‘काला दिवस’ मनाते हुए विरोध प्रदर्शन किया। पार्टी नेताओं ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश में लाखों लोग बेरोजगार हो गए और हजारों उद्योग बंद हो गए। माकन ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी के गलत फैसले को लागू करने का सबसे बुरा प्रभाव दिल्ली पर पड़ा था जिसके कारण लाखों लोग बेरोजगार हो गए क्योंकि अधिकतर लघु उद्योग की छोटी-छोटी फैक्टरियां बंद हो गई थीं। पूरे देश में तकरीबन 150 लोगों की मृत्यु हो गई। मजदूरों को काम न मिलने के कारण दिल्ली छोड़ने पर मजबूर होना पड़ा।

उन्होंने कहा कि सेंटर फॉर मानिटरिंग इंडियन इकॉनोमी ने देश भर के 1.6 लाख सैंपल परिवारों का सर्वेक्षण किया और पाया कि 2017 जनवरी से अप्रैल के बीच 15 लाख लोगों की नौकरियां छूटी और 96 लाख से अधिक ने अपने आपको बेरोजगार बताया। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि किसी भी देश में ऐसा पहली बार हुआ है कि प्रधानमंत्री की घोषणा से करोड़ों लोग बेरोजगार हो गए। विपक्ष के वरिष्ठ नेता शरद यादव ने कहा कि पूरा देश भाजपा के शासन से बेचेन है और समूचे विपक्ष ने नोटबंदी की वर्षगांठ को काला दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया। अजय माकन की अगुआई में पार्टी कार्यकर्ताओं ने कनॉट प्लेस के इनर सर्किल में मानव कड़ी बनाकर नोटबंदी का विरोध किया। आजाद ने कहा कि देश में ऐसा पहली बार हुआ है कि प्रधानमंत्री की घोषणा से हजारों लोग बेरोजगार हो गए। हजारों उद्योगों पर ताला लग गया। भारतीय युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवा दल के कार्यकर्ताओं ने जंतर मंतर मार्ग पर ‘नोटबंदी-एक संगठित लूट’’शीर्षक से विरोध प्रदर्शन किया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App