ताज़ा खबर
 

आप के मंत्रियों की ‘घर वापसी’ पर कांग्रेस ने किया तंज भरा स्वागत

दिल्ली कांग्रेस के जिला व ब्लॉक अध्यक्षों ने शुक्रवार को दिल्ली सचिवालय प्लेयर्स बिल्डिंग के बाहर आम आदमी पार्टी की सरकार के मुख्यमंत्री, मंत्रियों व विधायकों की घर वापसी पर कलश के साथ व दिए जलाकर उनका स्वागत किया...

Author नई दिल्ली | February 4, 2017 2:04 AM
आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल पंजाब में एक रैली के दौरान। (Photo Source: Indian Express/Rana Simranjit Singh)

दिल्ली कांग्रेस के जिला व ब्लॉक अध्यक्षों ने शुक्रवार को दिल्ली सचिवालय प्लेयर्स बिल्डिंग के बाहर आम आदमी पार्टी की सरकार के मुख्यमंत्री, मंत्रियों व विधायकों की घर वापसी पर कलश के साथ व दिए जलाकर उनका स्वागत किया क्योंकि वे दिल्ली को छोड़कर राजनीति चमकाने के लिए पंजाब व गोवा में चुनाव प्रचार के लिए गए हुए थे। सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता, जिनमें महिलाएं भी थीं, उन्होंने अपने सिर पर कलश रख कर और हाथों में तेल के दिए जलाकर मुख्यमंत्री, मंत्रियों व आप विधायकों का दिल्ली आने पर स्वागत किया। कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी, वरिष्ठ नेता चतर सिंह, जिला अध्यक्ष विरेंद्र कसाना, हरी किशन जिंदल व मेंहदी माजिद आदि मौजूद थे।

इस मौके पर शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि दिल्ली में आप के 67 विधायक हैं, जिसमें से 52 दिल्ली से बाहर चुनाव प्रचार के लिए गए हुए थे। बीते दिनों आप का पूरा मंत्रिमंडल दिल्ली से बाहर था। दिल्ली की जनता ने आम आदमी पार्टी को अप्रत्याशित बहुमत क्या इसलिए दिया था कि मुख्यमंत्री, मंत्री व विधायक दिल्ली के विकास की अनदेखी कर अपनी राजनीति चमकाने के लिए दिल्ली से बाहर रहें। भारतीय परंपरा में एक रीत है कि जब कोई नवदंपती शादी के बाद घर आता है या विदेश से काफी समय के बाद घर लौटता है तो घर के द्वार पर कलश रखकर व सरसों का तेल जमीन पर डालकर उसका स्वागत किया जाता है, इसी तरह आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री, मंत्रियों और आप विधायकों का घर वापसी पर स्वागत करके यह दर्शाया कि दिल्ली में आप के सत्ता में आने के बाद से विकास ठप पड़ गया है और ऐसे समय में इन मंत्रियों व विधायकों का राजनीति के लिए दिल्ली को छोड़ना बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App