ताज़ा खबर
 

आप नेताओं ने की 18 महीनों में 10 विदेश यात्राएं, कांग्रेस ने RTI से किया खुलासा

आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार के मंत्रियों ने 10 विदेश यात्राएं की हैं, जिसमें मनीष सिसोदिया 6 विदेशी यात्राओं के साथ सबसे आगे हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: October 25, 2016 1:58 AM
Delhi Police kejriwal, FIR Arvind kejriwal, Police FIR Kejriwal, Arvind kejriwal News, Arvind kejriwal latest news, Arvind kejriwal Hindi newsदिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो पीटीआई)

कांग्रेस ने दिल्ली सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए आरोप लगाया है कि जब दिल्ली डेंगू और चिकनगुनिया से जूझ रही थी तो केजरीवाल सकार के मंत्री विदेश यात्राओं में व्यस्त थे। ये आरोप दिल्ली कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने एक संवादादाता सम्मेलन में लगाए। उनके साथ आरटीआइ सेल के प्रमुख वेदपाल भी मौजूद थे।

मुखर्जी ने कहा कि पिछले 18 महीनों में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार के मंत्रियों ने 10 विदेश यात्राएं की हैं, जिसमें मनीष सिसोदिया 6 विदेशी यात्राओं के साथ सबसे आगे हैं। सिसोदिया का 3 महीनों में एक विदेश यात्रा का औसत है। उन्होंने कहा कि मनीष सिसोदिया ने पिछले 18 महीनों में 6 विदेश यात्राएं की हैं और उनके विदेशी दौरों में 30,73,450 रुपए खर्च हुए हैं। यानी उनकी हर विदेश यात्रा पर 10 लाख रुपए खर्च हुए हैं। सिसोदिया के एथेंस और फिनलैंड यात्रा के साथ कुछ दौरों की राशि की जानकारी नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि जब सिसोदिया भारत से बाहर थे, उस समय दिल्ली में डेंगू के कारण पहली मौत हुई थी और उस महीने में डेंगू के 830 मामले सामने आए थे। इसके बाद जब सिसोदिया 11 से 17 सितंबर के बीच फिनलैंड गए थे तब दिल्ली में डेंगू चिकनगुनिया की महामारी फैली थी। उस समय न केवल मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री दिल्ली से बाहर थे, बल्कि आप सरकार के ज्यादातर मंत्री दिल्ली के लोगों को उनके हाल पर छोड़कर विदेशों में सैर-सपाटे कर रहे थे।

Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें

मुखर्जी ने आगे कहा कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने एक साल में 3 विदेशी दौरे किए, जिस पर 18 लाख रुपए का खर्च आया यानी औसतन 6 लाख रुपया प्रति विदेशी यात्रा। जब केजरीवाल मदर टेरेसा को संत की उपाधि दिए जाने के समारोह के लिए रोम गए थे, उस समय (3-5 सितंबर) उनकी यात्रा पर 13.50 लाख रुपए का खर्च आया था। उसी वक्त दिल्ली में डेंगू-चिकनगुनिया की महामारी फैली हुई थी। इससे तो ऐसा लगता है कि आप के नेता इन बीमारियों के संक्रमण से बचने के लिए ही विदेश यात्राओं पर गए थे। शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि आरटीआइ के जरिए मिली जानकारी के मुताबिक, आप के वरिष्ठ नेताओं ने सरकारी खर्च पर विदेश यात्राएं कीं, जिनमें दिल्ली डायलॉग कमेटी के अध्यक्ष आशीष खेतान भी शामिल हैं। वे सरकारी खर्च पर मैनचेस्टर और स्वीडन गए थे।

खेतान को मैनचेस्टर में स्टडी टूर पर बुलाया गया था। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन भी उनके साथ गए थे और उन्होंने दो दिन लंदन में बिताए। उस समय दिल्ली डेंगू की चपेट में थी और डेंगू के 1800 मामले सामने आए थे। इसी तरह अक्तूबर में सत्येंद्र जैन व गोपाल राय सहित आप के 10 सदस्यों का प्रतिनिधिमंडल स्वीडन गया था और उन्होंने प्रथम श्रेणी व बिजनस क्लास में हवाई यात्रा की थी। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, इस यात्रा पर तकरीबन 22 लाख रुपए खर्च हुए थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बर्ड फ्लू की दहशत के बीच सरकार ने जारी किया स्वास्थ्य परामर्श
2 पंजाब: अमरिंदर सिंह की बहस की चुनौती से भागे केजरीवाल बोले- मैं सिर्फ सोनिया या राहुल से करूंगा बहस
3 प्रियंका गांधी पहली बार कांग्रेस की बैठक में हुईं शामिल, पार्टी पर दिखा असर, अखिलेश को लेकर बदला सुर
IPL 2020 LIVE
X