ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी के सोनिया गांधी पर हमले से खफा कांग्रेस का सदन में धरना

कांग्रेस के वीरप्पा मोइली ने प्रधानमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस देते हुए आरोप लगाया है कि अगस्तावेस्टलैंड मामले में पैसा लेने को लेकर यूपीए नेताओं के खिलाफ सदन के बाहर झूठ बोला गया है।

लोकसभा (पीटीआई फोटो)

नई दिल्ली, 10 मई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर बोले गए कथित हमले के संबंध में विशेषाधिकार हनन के नोटिस पर आसन से व्यवस्था की मांग करते हुए मंगलवार (10 मई) को लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खरगे समेत पार्टी के सभी सदस्य आसन के समक्ष धरने पर बैठ गए। खरगे, ज्योतिरादित्य सिंधिया, रवनीत सिंह बिट्टू और रंजीत रंजन समेत पार्टी के सभी सदस्य आसन के निकट आकर धरने पर बैठ गए।

ज्योतिरादित्य सिंधिया और खरगे की ओर से विशेषाधिकार हनन के नोटिस के बारे में आसन से व्यवस्था की मांग करने पर आसन पर मौजूद सभापति आनंदराव अड़सुल ने कहा कि वे तो अस्थाई तौर पर आसन पर बैठे हैं और यह मामला स्पीकर के विचाराधीन हैं। वही कुछ फैसला दे सकती हैं। सत्ता पक्ष के सदस्यों द्वारा यह कहे जाने पर सदन में सूखे पर चर्चा होनी है तो खरगे ने कहा कि सूखे पर चर्चा महत्त्वपूर्ण है और कांग्रेस सदन को बाधित नहीं करना चाहती। इसलिए हम शांतिपूर्ण तरीके से धरने पर बैठ रहे हैं। इसके बाद सभी सदस्य आसन के समक्ष आकर बैठ गए।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Black
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Jivi Energy E12 8 GB (White)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹0 Cashback

इससे पूर्व खरगे ने कहा कि वे सुबह से यह मामला उठा रहे हैं और आसन ने समय नहीं दिया। हमारी पार्टी की अध्यक्ष का नाम सार्वजनिक रूप से लिया गया है। प्रधानमंत्री को सदन के बाहर ऐसा नहीं कहना चाहिए था। वे जो कहना चाहते हैं सदन में कहें। नियम का हवाला देते हुए संसदीय मामलों के राज्य मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने कहा कि अध्यक्ष तय करेंगी कि यह विशेषाधिकार हनन नोटिस है या नहीं। कांग्रेस के वीरप्पा मोइली ने प्रधानमंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस देते हुए आरोप लगाया है कि अगस्तावेस्टलैंड मामले में पैसा लेने को लेकर यूपीए नेताओं के खिलाफ सदन के बाहर झूठ बोला गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App