ताज़ा खबर
 

बवाना उपचुनाव: अरविंद केजरीवाल ने दी बधाई, जवाब मिला- राजौरी में जमानत जब्‍त हुई थी, उसका क्‍या?

अब आप वाले छाती पीट-पीट के दोबारा चुनाव करवाने के लिए हल्ला क्यों नहीं मचा रहे हैं। दोगला केजरीवाल।

Author नई दिल्ली | August 28, 2017 3:34 PM
आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (PTI Photo)

दिल्ली की बवाना सीट के लिए हुए उप-चुनाव में आम आदमी पार्टी के राम चंदर ने बीजेपी और कांग्रेस को हराकर इस पर अपना कब्जा जमा लिया है। राम चंदर की इस जीत पर पार्टी के सभी बड़े दिग्गज नेता उन्हें बधाई दे रहे हैं और इसे बीजेपी की करार हार भी बता रहे हैं। दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी नेता अरविंद केजरीवाल ने पार्टी की इस जीत पर अपने कार्यकर्ताओं और जनता को शुक्रिया कहा है। केजरीवाल ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा आम आदमी पार्टी की स्वच्छ राजनीति और पिछले ढाई वर्षों के कामों पर मुहर लगाने के लिए बवाना की जनता को दिल से शुक्रिया और बधाई। अरविंद केजरीवाल के इस ट्वीट पर कई लोगों ने उन्हें राजौरी गार्डन वाले उप-चुनाव में जमानत जब्त की याद दिलाते हुए ट्रोल करना शुरु कर दिया है।

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए एक ने लिखा तीन महीने पहले एक जमानत भी जब्त हुई थी तुम्हारी.. उसका क्या? एक ने विधानसभा में सौरभ भारद्वाज द्वारा ईवीएम हैक करने वाली बात पर आप पर हमला बोलते हुए कहा अरे पागल ये सौरभ भारद्वाज की जीत है इंजीनियर ने अपना काम कर दिया है। एक ने लिखा ये जो कुछ महीने पहले राजौरी से जमानत जब्त हुई थी वो किस राजनीति के तहत हुई थी। एक ने आप का एक होर्डिंग शेयर करते हुए लिखा अच्छी नहीं दोगली राजनीति, धर्म के नाम पर वोट बंटोरते हो, निहायत ही गिरी हुई और भ्रष्ट राजनीति करते हो। एक ने  लिखा क्यों जी अब ईवीएम में गड़बड़ नहीं है?  अब आप वाले छाती पीट-पीट के दोबारा चुनाव करवाने के लिए हल्ला क्यों नहीं मचा रहे हैं। दोगला केजरीवाल।

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी के राम चंदर ने बीजेपी के वेद प्रकाश को 24 वोटों से हरा दिया है। कांग्रेस प्रत्याशी सुरेंद्र कुमार तीसरे स्थान पर रहे। राम चंदर ने बीजेपी के वेद प्रकाश को 24 हजार से अधिक वोटों के अंतर से हराया। राम चंदर को कुल 59886 वोट मिले। वहीं बीजेपी के वेद प्रकाश को 35834 वोट और कांग्रेस सुरेंद्र कुमार को 31919 वोट मिले।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App