ताज़ा खबर
 

महिला ने पी रखी थी इतनी शराब कि दिल्‍ली मेट्रो में चढ़ने नहीं दिया गया, CISF वाले घर तक छोड़कर आए

अधिकारी बार-बार महिला को कह रहे थे कि नशे में धुत्त लोगों को मेट्रो परिसर में आने की इजाजत नहीं है, लेकिन इसके बावजूद महिला परिसर में घुसने की कोशिश करने लगी। सीआईएसएफ अधिकारी ने बताया कि महिला साउथ दिल्ली की रहने वाली है।

Author नई दिल्ली | March 14, 2018 2:40 PM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर। (फाइल)

सीआईएसएफ अधिकारियों ने सोमवार को एक महिला को दिल्ली मेट्रो में चढ़ने नहीं दिया, क्योंकि वह शराब के नशे में धुत्त थी। इतना ही नहीं, महिला अपने घर तक सुरक्षित पहुंचे, इसके लिए सीआईएसएफ के अधिकारी उसे उसके घर तक छोड़कर आए। यह मामला समयपुर बादली मेट्रो स्टेशन का है। सीआईएसएफ के एक अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, 25 वर्षीय महिला ने बहुत शराब पी रखी थी और वह इतने नशे में थी कि ठीक से चल भी नहीं पा रही थी। नियमों के तहत, सीआईएसएफ अधिकारियों ने महिला को मेट्रो स्टेशन में घुसने से रोका।

अधिकारी बार-बार महिला को कह रहे थे कि नशे में धुत्त लोगों को मेट्रो परिसर में आने की इजाजत नहीं है, लेकिन इसके बावजूद महिला परिसर में घुसने की कोशिश करने लगी। सीआईएसएफ अधिकारी ने बताया कि महिला साउथ दिल्ली की रहने वाली है। यह मामला रात करीब 10:45 का है, जब मेट्रो की आखिरी ट्रेन निकलने वाली थी। महिला को मेट्रो में चढ़ने से रोका गया तो वह ड्यूटी पर मौजूद अधिकारियों से बहस करने लगी, जिसके बाद मेट्रो कर्मचारियों ने पुलिस को सूचित किया।

एक अधिकारी ने कहा, “जब मामला नहीं सुलझा तो हमने महिला के पति को फोन किया। उन्होंने हमसे गुजारिश की कि हम उसे धौला कुआं मेट्रो स्टेशन तक छोड़ दें और वहां से वे महिला को पिक कर लेंगे। इसके बाद महिला को एक वाहन में एक पुरुष और एक महिला कॉन्स्टेबल से साथ भेजा गया। महिला की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ही हमने महिला को उसके स्थान तक छोड़ा।” अधिकारियों के अनुसार, ऐसा कई बार होता है कि यात्री शराब के नशे में धुत्त होकर यात्रा करते हैं, जिसके कारण अन्य यात्रियों को काफी परेशानी झेलनी पड़ती है। इस समस्या को ध्यान में रखते हुए नशे में धुत्त लोगों को मेट्रो में चढ़ने की इजाजत नहीं दी जाती। कई बार ऐसा भी हुआ है जब मेट्रो अधिकारी ऐसे यात्रियों के लिए कैब तक बुक कराते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App