ताज़ा खबर
 

मुख्यमंत्री ने दिवंगत अभिभावकों को लिख दिए पत्र

राजकीय स्कूल शिक्षक संघ (जीएसटीए) ने कहा है कि वोटों की भावनाओं में बह कर केजरीवाल ऐसा कर गए। शिक्षक संघ ने पत्र में शिक्षकों के योगदान का जिक्र न होने पर रोष व्यक्त किया है।

Author February 21, 2019 3:32 AM
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल। (file pic)

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों के अभिभावकों को पत्र लिख कर उनके बच्चों की पढ़ाई को लेकर चिंता जाहिर की है। इसी क्रम में वे दिवंगत अभिभावकों को भी पत्र लिख गए, जिसके लिए उन्हें कटाक्ष झेलना पड़ रहा है। राजकीय स्कूल शिक्षक संघ (जीएसटीए) ने कहा है कि वोटों की भावनाओं में बह कर केजरीवाल ऐसा कर गए। शिक्षक संघ ने पत्र में शिक्षकों के योगदान का जिक्र न होने पर रोष व्यक्त किया है।

जीएसटीए की ओर से साझा एक पत्र में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल किसी छात्रा पिंकी के पिता स्व. रामवर सिंह को संबोधित करते दिख रहे हैं। केजरीवाल ने पत्र में पूछा है कि पिंकी की पढ़ाई कैसी चल रही है? उन्हें पिंकी की पढ़ाई की बहुत चिंता सता रही है। इसके साथ ही केजरीवाल ने पत्र में दिल्ली सरकार की ओर से सरकारी स्कूलों को बेहतर करने के लिए उठाए गए कदमों का जिक्र किया है और अभिभावक से पूछा है कि कभी किसी चीज की जरूरत हो तो बताएं।

केजरीवाल ने पत्र में शिक्षकों के गुणात्मक सुधार के लिए किए जा रहे प्रयासों की भी चर्चा की है और कहा है कि जिन स्कूलों में जरूरत हुई, वहां सख्ती भी की गई है। केजरीवाल के इस पत्र का उल्लेख करते हुए जीएसटीए ने कहा है कि मुख्यमंत्री ने वोटों की भावनाओं में बह कर स्वर्गीय अभिभावकों को भी पुत्र/पुत्री की शिक्षा के विषय में जानने के लिए पत्र लिख दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X