ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी की सख्‍ती के चलते सूना हुआ संसद का सेंट्रल हॉल, अब स्‍मोकिंग रूम में जुटते हैं सांसद

उत्‍तर प्रदेश में भारी जीत के बाद, सेंट्रल हॉल में पत्रकारों की मौजूदगी भी घटी है।

नई दिल्‍ली स्थित संसद भवन बिल्डिंग। (Source: PTI Photo)

बीते दिनों, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन से भाजपा सांसदों की अनुपस्थिति पर चिंता जताई थी। उन्‍होंने सांसदों और केंद्रीय मंत्रियों को सख्‍त हिदायत देते हुए कहा था कि वे फालतू की बातचीत पर अपना समय बर्बाद न करें। पीएम की इस नसीहत का असर दिखने लगा है। पिछले कुछ दिनों से संसद के केंद्रीय हॉल में सन्‍नाटा पसरा रहता है। संसद के पिछले तीन सत्रों में, सेंट्रल हॉल में सांसदों का जमावड़ा लगा रहता था। वर्तमान सांसद जहां मेडिकल या ट्रेवल संबंधी रियायत के सिलसिले में, वहीं पूर्व सांसद अपनी पेंशन के लिए यहां इकट्ठा होते थे। इसके अलावा सेंट्रल हॉल में 25-30 पत्रकार भी मौजूद रहते हैं, जो नेताओं से करीबी बढ़ाकर खबरें तलाशने की कोशिश करते हैं। लगभग तीन साल के कार्यकाल में, प्रधानमंत्री ने सेंट्रल हॉल में कभी भी मीडियाकर्मियों के साथ समय नहीं बिताया है, ज‍बकि उन्‍हें राज्य सभा जाने के लिए हॉल पार करके ही जाना होता है।

रिपोर्ट्स की मानें तो प्रधानमंत्री को यह पसंद नहीं कि सांसद प्रश्‍नकाल के समय नीतिगत मामलों पर पत्रकारों से कोई बातचीत करें, न ही संसदीय क्षेत्र को लेकर पत्रकारों से मिलने को वह बढ़ावा देते हैं। इसके अलावा पत्रकार भी बीजेपी घोषणा-पत्र के लागू करने या सांसदों की परफॉर्मेंस से जुड़ी खबरें नहीं कर पाते। उत्‍तर प्रदेश में भारी जीत के बाद, सेंट्रल हॉल में पत्रकारों की मौजूदगी भी घटी है। कांग्रेस, लेफ्ट और टीएमसी के सासंद तो सेंट्रल हॉल में दिखते हैं, मगर टूट के बाद AIADMK सांसद नजर नहीं आते। वहीं, सेंट्रल हॉल का स्‍मोकिंग रूम अभी भी गुलजार है जहां सांसद और पत्रकारों को धुआं उड़ाते देखा जा सकता है।

संसद में इन दिनों जीएसटी विधेयक पर चर्चा हो रही है। लोक सभा और राज्‍य सभा, दोनों सदनों में सत्‍ता पक्ष और विपक्ष के बीच बिल के प्रावधानों को लेकर जमकर बहस चल रही है। इसके अलावा, बुधवार को सांसदों ने परिसर में फुटबॉल भी खेला। टीएमसी सांसद प्रसून बनर्जी ने फीफा अंडर-17 फुटबॉल विश्वकप का फाइनल मैच कोलकाता में आयोजित होने की खुशी में लोकसभा स्‍पीकर सुमित्रा महाजन को एक फुटबॉल भेंट की थी।

मंगलवार को संसद के बाहर फुटबॉल वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। भारत में पहली बार हो रहे फीफा अंडर-17 फुटबॉल विश्वकप को प्रमोट करने के लिए सभी सांसदों को फुटबॉल बांटी गई। कई सांसद इससे खेलते भी नजर आए।

पीएम मोदी ने यूपी के सांसदों से कहा- "मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कोई सिफारिश न करें"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 AAP विधायक ने अरविंद केजरीवाल को दी चापलूसों से दूर रहने की नसीहत, लिखा- ‘चमचा नियरे राखिए, जल्दी राज्य डुबाय’
2 सुप्रीम कोर्ट की बेटी बता कर दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल से उलझ गई महिला, कहा- पैसे देकर हुए हो भर्ती, औकात बता दूंगी
3 सुप्रीम कोर्ट ने पूरे देश भर में लगाई बीएस-3 तक के वाहनों की बिक्री पर रोक, जानिए क्यों?
ये पढ़ा क्या?
X