ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल को सीबीआई, लोकायुक्‍त से क्‍लीन चिट, 2 करोड़ कैश लेने का था आरोप

2करोड़ कैश लेने के आरोप में सीबीआई व लोकायुक्त ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविदं केजरीवाल को क्लिन चिट दे दी। सीबीआई ने लोकायुक्त को बताया कि सीएम केजरीवाल के खिलाफ ऐसा कोई सबूत नहीं था। इसके बाद लोकायुक्त ने इस केस को बंद कर दिया।

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल (पीटीआई फोटो)

करीब एक साल बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ रूपये अवैध रूप से लेने के आरोप में सीबीआई और लोकायुक्त से क्लीन चिट मिल गई। इस मामले में सत्येंद्र जैन को भी क्लीन चिट दे दी गई। कपिल मिश्रा द्वारा लगाए गए आरोप के बाद सीबीआई ने इस पूरे मामले की जांच की। जांच के आधार पर लोकायुक्त ने दिल्ली के मुख्यमंत्री के खिलाफ इस केस को बंद करने का फैसला लिया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, “लोकायुक्त ने शिकायतकर्ता को यह बताने को कहा कि उनके पास अरविंद केजरीवाल के खिलाफ क्या सबूत है? इस पर शिकायतकर्ता ने कहा कि वह सीबीआई को सबूत देंगे। सीबीआई ने लोकायुक्त को बताया कि सीएम केजरीवाल के खिलाफ ऐसा कोई सबूत नहीं था। इसके बाद लोकायुक्त ने इस केस को बंद कर दिया।”

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के सहयोगी रहे पूर्व जल, कला और संस्कृति मंत्री कपिल मिश्रा ने पिछले साल सात मई को अपने आरोपों से एक दिल्ली की राजनीति में एक तूफान ला दिया था। अनियमितता के आरोप में मंत्री पद से हटाए जाने के बाद उन्होंने अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि मेरे सामने सीएम केजरीवाल ने स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ रूपये लिए थे। जब मैंने उनसे इस बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि यह सब राजनीति में चलता है। साथ ही मिश्रा ने केजरीवाल के रिश्तेदार के लिए सत्येंद्र जैन द्वार 50 करोड़ रूपये की जमीन का सौदा करवाने का भी आरोप लगाया था।

लोकायुक्त व सीबीआई द्वारा अरविंद केजरीवाल  तथा सत्येंद्र जैन को क्लीन चिट दिए जाने के बाद ‘आप’ ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा ने अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के झूठे व बेबुनियाद आरोप लगाए थे, जिसके चलते सीबीआई ने जांच भी की। अब वह जांच बंद कर दी गई, क्योंकि उन्हें रत्ती भर भी सत्यता नहीं मिली। जो सीबीआई केंद्र सरकार के तोते की तरह काम करती है, उसको क्लीन चिट देनी पड़ी।

वहीं, आप नेता संजय सिंह ने भी ट्वीट कर कहा कि एक बार फिर से यह स्पष्ट हो गया कि केजरीवाल भ्रष्ट नहीं हो सकते। उनके खिलाफ तथाकथित भ्रष्टाचार के मामले में दिन-रात मीडिया और बीजेपी-कांग्रेस नेताओं ने हंगामा किया था। उस मामले को अब सीबीआई और लोकायुक्त ने ही बंद कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App