ताज़ा खबर
 

दिल्ली: दिनदहाड़े नकदी वैन से 70 लाख रुपए की लूट

विरोध करने पर बदमाशों ने वैन में बैठे कैशियर को भी गोली मार दी जो उसके हाथ में लगी। इसके बाद बदमाश लूट की रकम के साथ मोटरसाइकिल से फरार हो गए।

Author नई दिल्ली | September 19, 2017 2:20 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

जमनापार के करावल नगर इलाके में सोमवार दोपहर मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े कैश वैन से करीब 70 लाख रुपए लूट लिए। बदमाशों ने हथियारों की नोक पर रुपए ले जा रही सीएमएस एजंसी की कैश वैन को रोका, दो गोलियां चलाई और गनर के सिर पर पिस्तौल की बट से हमला कर घायल कर दिया। विरोध करने पर बदमाशों ने वैन में बैठे कैशियर को भी गोली मार दी जो उसके हाथ में लगी। इसके बाद बदमाश लूट की रकम के साथ मोटरसाइकिल से फरार हो गए। पुलिस ने कैशियर मनवीर और गनर  प्रदीप को जीटीबी अस्पताल पहुंचाया। इस वारदात में तीन से पांच बदमाशों के शामिल होने की बात सामने आ रही है।  पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। गनर और वैन में मौजूद दो अन्य लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। हालांकि पुलिस उपायुक्त डा एके सिंगला ने कहा कि फिलहाल यह पता लगाया जा रहा है कि कितने लाख की लूट हुई है।

यह कैश वैन लोनी से नकदी इकट्ठा कर सोमवार दोपहर करीब चार बजे जौहरीपुर के पास से जा रही थी। वहां उसे शराब के ठेके से नकदी इकट्ठा करनी थी। लेकिन इससे पहले ही पीएनबी के पास संकरी गली में मोटरसाइकिल सवार तीन बदमाशों ने ओवरटेक कर कैश वैन को रोक लिया। इसके बाद उन्होंने दो गोलियां चलाई। गोली की आवाज सुन कर गनर प्रदीप जैसे ही बाहर निकला, बदमाशों ने पिस्तौल के बट से उसके सिर पर वार कर उसे घायल कर दिया। इसके बाद उन्होंने वैन में नकदी के पास मौजूद कैशियर मनवीर पर गोली चलाई और एक बदमाश ने पिस्तौल दिखाकर चालक व एक कस्टोडियन को बैठा दिया। बाकी दोनों बदमाशों ने वैन की डिग्गी खोलकर नकदी समेट ली। बताया जा रहा है कि इस नकदी को एक मोटरसाइकिल पर बैठे दो अन्य बदमाश अपने साथ ले गए जबकि बाकी तीन बदमाश अपनी मोटरसाइकिल से फरार हो गए। बताया जा रहा है कि आसपास लगे सीसीटीवी में वारदात कैद हो गई है। आरोपियों ने अपने चेहरे कपड़ों और हेलमेट से ढंक रखे थे। वारदात के समय गली सुनसान पड़ी थी। पुलिस ने बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App