ताज़ा खबर
 

Budget 2021: मोदी सरकार ने शराब पर एग्री इंफ्रा सेस 100 फीसदी किया, कल से महंगे हो जाएंगे सारे ब्रांड

कल से शराब पीना भी महंगा हो जाएगा, क्योंकि बजट में अल्कोहल पेय पदार्थों पर 100 प्रतिशत एग्री इंफ्रा सेस लगाया गया है। ये सेस सभी एल्कोहल प्रोडक्ट ब्रांडी, व्हिस्की और स्कॉच आदि सभी पर लग रहा है।

budget 2021, budget, budget 2021 highlights, budget highlights, budget 2021 indiaवित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (फोटो सोर्सः ट्विटर/@nsitharamanoffac)

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कल से ही नया एग्री इंफ्रा डेवलपमेंट सेस लागू करने की घोषणा की है। इसके अनुसार, कल से शराब पीना भी महंगा हो जाएगा, क्योंकि बजट में अल्कोहल पेय पदार्थों पर 100 प्रतिशत एग्री इंफ्रा सेस लगाया गया है। ये सेस सभी अल्कोहल प्रोडक्ट ब्रांडी, व्हिस्की और स्कॉच आदि सभी पर लग रहा है।

वित्त मंत्री ने कहा कि यह सेस लगाते समय हमने इस बात का ध्यान रखा है कि ग्राहकों पर बहुत अधिक भार न पड़े। 100 फीसदी सेस फर्मेंटेंड बेवरेज पर भी लागू होगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि एग्री इंफ्रा डेवलपमेंट सेस 2 फरवरी 2021 को लागू हो जाएगा। एग्री इंफ्रा सेस 2.5 फीसदी गोल्ड, सिल्वर पर भी लगाया गया है। 35 फीसदी एग्री सेस सेब, 5 फीसदी फर्टिलाइजर पर लगाया है।

गौरतलब है कि आम बजट 2021-22 में, सरकार ने स्वास्थ्य पर अपने खर्च में वृद्धि की है। इस खर्च की भरपाई के लिए कई उत्पादों पर उत्पाद शुल्क और आयात शुल्क बढ़ाए गए हैं। इसके अलावा, एग्री इंफ्रा सेस कई चीजों पर लगाया है, जिसे केवल 2 फरवरी 2021 से लागू किया जा रहा है। बजट में सोने और चांदी पर उत्पाद शुल्क में कटौती की गई है। इसे 12.5% ​​से घटाकर 7.5% कर दिया गया है। साथ ही सोने-चांदी के बिस्कुट पर उत्पाद शुल्क भी घटाया गया है। ऐसी स्थिति में सोना सस्ता होने की संभावना है। हालांकि, इसके साथ ही, सरकार ने सोने और चांदी पर 2.5 प्रतिशत का एग्री इंफ्रा सेस लगाया है। इसके साथ, सोने और चांदी की कीमतों में तत्काल आधार पर वृद्धि की उम्मीद है।

सरकार ने बजट में चयनित ऑटो पार्ट्स, कपास, कच्चे रेशम, सौर उपकरणों पर कस्टम ड्यूटी बढ़ा दी है। इससे वाहनों के साथ-साथ अन्य वस्तुओं के भी महंगा होने की संभावना है। लेकिन साथ ही स्टील पर उत्पाद शुल्क घटाकर 7.5 प्रतिशत कर दिया गया है। सरकार ने कच्चे पाम तेल पर 17.5% कृषि इन्फ्रा सेस, कच्चे सोयाबीन पर 20% उपकर और सूरजमुखी तेल लगाया है। इसके साथ सेब पर 35%, विशेष उर्वरकों पर 5% और कोयले पर 1.5% की कृषि इन्फ्रा सेस लगाया गया है। इसके कारण, इन वस्तुओं के महंगे होने की भी संभावना है।

Next Stories
1 दिल्‍ली मेरी दिल्‍ली
2 लाल किले पर चढ़ाई करने वाले पांच लोगों के आपराधिक रिकॉर्ड, जांच में सामने आई चौंकाने वाली बातें
यह पढ़ा क्या?
X