ताज़ा खबर
 

बीके बंसल ने आत्महत्या से एक दिन पहले कुरियर से भेजा था मीडिया और सीबीआई को सुसाइड नोट

कुरियर कंपनी ने पुलिस को बताया को दो मोटरसाइकिल सवारों ने विभिन्न मीडिया संस्थानों और सीबीआई दफ्तर को आठ कूरियर भेजे थे।

Author September 30, 2016 1:59 PM
पूर्व नौकरशाह बीके बंसल और उनके बेटे ने 27 सितंबर को अपने घर पर खुदकुशी कर ली थी। (File Photo)

पूर्व नौकरशाह बीके बंसल ने अपने बेटे योगेश बंसल के साथ 27 सितंबर को अपने मधुविहार स्थित घर पर आत्महत्या करने से पहले कई मीडिया संस्थानों और सीबीआई को अपना सुसाइड नोट कुरियर से भेज दिया था। कॉर्पोरेट अफेयर्स मंत्रालय के पूर्व डायरेक्टर जनरल बंसल द्वारा भेजे गए सुसाइड नोट की एक प्रति गुरुवार (29 सितंबर) को इंडियन एक्सप्रेस को मिली। सीबीआई भ्रष्टाचार के मामले में बंसल से पूछताछ कर रही थी। बंसल ने सुसाइड नोट में सीबीआई के वरिष्ठ अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। करीब दो महीने पहले बंसल की पत्नी और बेटी ने भी आत्महत्या कर लिया था।

दिल्ली पुलिस की एक टीम गुरुवार को उस कुरियर कंपनी के लक्ष्मी नगर स्थित दफ्तर गई थी जिससे कथित तौर पर बंसल ने अपना सुसाइड नोट भेजा था। कंपनी के कर्मचारियों ने पुलिस के बताया कि “सोमवार को दो लोग उनके दफ्तर आए थे, उन्होंने कंपनी की सेवाओं के बारे में पूछताछ करने के बाद उन्होंने कई मीडिया संस्थानों और सीबीआई दफ्तर को आठ कुरियर भेजे।”  सूत्र के अनुसार कुरियर वालों ने पुलिस को बताया कि “दोनों व्यक्ति मोटरसाइकिल से आए थे….उनमें से एक लगातार फोन पर बात कर रहा था।”

हालांकि पूर्वी दिल्ली के डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस ऋषि पाल सिंह ने कहा, “कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है और सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई शुरू कर दी गई है।” बंसल ने सुसाइड नोट में लिखा है कि उनकी पत्नी सत्यबाला और बेटी नेहा भी सीबीआई द्वारा किए जा रहे “उत्पीड़न और शोषण” की वजह से आत्महत्या करने को मजबूर हुई थीं। बंसल और उनके बेटे ने सुसाइड नोट में सीबीआई के डीआईजी स्तर के एक अधिकारी पर खासकर आरोप लगाए हैं। सुसाइड नोट के अनुसार इस अधिकारी ने उन्हें और उनके परिवार को धमकी दी थी। सूत्रों के अनुसार योगेश ने अपने सुसाइड नोट में उस अधिकारी को अपनी मां और बहन की आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया है। सूत्रों के अनुसार सीबीआई के संयुक्त निदेशक स्तर के एक अधिकारी को बंसल द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच का जिम्मा सौंपा गया है।

Read Also: बीके बंसल के सुसाइड नोट में अमित शाह का नाम, ट्विटर यूजर्स ने कहा- तोता नहीं, ग‍िद्ध है सीबीआई

दिल्ली महिला आयोग और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी मामले में सीबीआई से जवाब तलब किया है। बीके बंसल के सुसाइड नोट की खबर मीडिया में आने के बाद दोनों आयोगों ने मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए सीबीआई को नोटिस भेजी है। सीबीआई को दिल्ली महिला आयोग की नोटिस का 48 घंटे में जवाब देना है। वहीं राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की नोटिस का जवाब उसे 72 घंटे में देना है।

Read Also: बीके बंसल के सुसाइड नोट में हुए अहम खुलासे, यहां पढ़ें सात पेज का पूरा सुसाइड नोट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App